मंदसौर गोलीकांड : विधानसभा में रखने के बाद ही कोर्ट में पेश की जाएगी जांच रिपोर्ट

- आधा दर्जन से अधिक जनहित याचिकाओं पर सुनवाई

 

इंदौर. एक से १२ जून २०१७ के बीच प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में अपनी उपज का सही दाम नहीं मिलने के विरोध में किसानों का आंदोलन चला था। अधिकांश शहरों में लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति खराब हो गई थी। इसी दौरान मंदसौर में किसानों के प्रदर्शन के दौरान पुलिस द्वारा की गई फायरिंग में ६ युवकों की मौत हो गई थी। किसान आंदोलन सहित मंदसौर कांड को लेकर हाई कोर्ट में दायर ६ अलग-अलग जनहित याचिकाओं पर सोमवार को सुनवाई हुई। कोर्ट के आदेश पर जस्टिस जैन आयोग का गठन किया गया था और पूरे मामले की जांच की गई थी। आयोग ने अपनी रिपोर्ट सरकार के समक्ष पेश कर दी है। रिपोर्ट हाई कोर्ट में पेश करने से जुड़ी मांग पर शासन द्वारा कोर्ट को जानकारी दी गई है कि नियमों के मुताबिक रिपोर्ट पहले विधानसभा के पटल पर रखी जाएगी और उसके बाद ही कोर्ट में पेश की जा सकती है। कोर्ट ने तर्कों से सहमत होकर अगली सुनवाई १८ जून को करने के आदेश दिए हैं।

 

सुधीर पंडित
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned