दोस्त के साथ जूस पीया और फिर घर आकर एमबीए छात्रा ने लगा ली फांसी

दोस्त के साथ जूस पीया और फिर घर आकर एमबीए छात्रा ने लगा ली फांसी

Krishnapal Singh Chauhan | Publish: Sep, 22 2018 04:01:02 AM (IST) | Updated: Sep, 22 2018 12:56:53 PM (IST) Indore, Madhya Pradesh, India

राजेंद्र नगर थाना क्षेत्र का मामला, फोन नहीं उठाने पर दोस्त घर पहुंचा तो छात्रा फंदे पर झृलती मिली

 

इंदौर. एमबीए की पढ़ाई कर रही छात्रा ने गुरुवार रात घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। जिस वक्त उसने यह कदम उठाया घर में कोई सदस्य नहीं था। थोड़ी देर बाद दोस्त घर पहुंचा तो उसे फंदे पर झृलता देख घबरा गया। उसने तुरंत छात्रा को फंदे से उतारा। कॉलोनी में रहने वाले लोगों की मदद से वह उसे लेकर हॉस्पिटल पहुंचा। यहां जांच के दौरान डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

टीआई सुनील शर्मा के मुताबिक सोनम (२३) पिता रघुवीर तोमर निवासी सप्तश्रृंगी नगर ने गुरुवार रात को फांसी लगाकर खुदकुशी की है। शुक्रवार को शव का पीएम एमवाय में कराने के बाद उसके परिजनों को सौंपा है। एमवाय पहुंचे दोस्त अविनाश सोनी ने बताया की मृतक ा प्रेस्टिज कॉलेज से एमबीए की पढ़ाई कर रही थी। वही किराए के घर में रहकर स्कीम १०३ स्थित महिंद्रा के गाडि़यों के शोरूम में नौकरी करने लगी। मृलत: वह मनावर की रहने वाली है। यहां वह बहन विजया और दादी के साथ रहती है। अविनाश ने बताया की वह प्रिंस हुंडई में काम करता है। ग्यारह माह पूर्व उसकी सोनम से दोस्ती हुई। तभी से दोनों एक दूसरे के संपर्क में है। शाम के वक्त सोनम उससे मिलने पहुंची। यहां से दोनों ज्यूस पीने के लिए निकले। रास्ते में सोनम ने उसे मोबाइल चार्जर लेने जाने की बात कही और चली गई। इसके बाद से वह लगातार उसे फोन लगाता रहा। रात करीब ८.३० पर वह संदेह के चलते उसके घर पहुंचा तो वह फंदे पर झृलती मिली। सोनम को इस हाल में देख उसने तत्काल उसे फंदे से उतारा और पडोस में रहने वाले लोगों को मदद के लिए बुलाया। पडोसी कार लेकर पहुंचते तब तक सोनम की बहन विजया भी वहां पहुंची। इसके बाद सभी उसे लेकर चोइथराम हॉस्पिटल और फिर एमवाय लेकर पहुंचे। टीआई ने बताया की घटनास्थल की जांच में सुसाइड नोट नहीं मिला। छात्रा ने खुदकुशी क्यों की इसका पता लगाया जा रहा है। जल्द इस संबंध में परिजनों व साथियों के बयान लिए जाएेंगे। प्राथमिक जांच में पता चला है की छात्रा ने जब खुदकुशी की तब घर में कोई नहीं था। उसकी बहन नौकरी करने गई थी। वहीं दादी, रिश्तेदार के यहां हुई गमी में शामिल होने गई है।

परिजनों मुझे नहीं करते पसंद

दोस्त अविनाश का कहना है पिछले कुछ दिनों से सोनम तनाव में थी। वह जब भी मिलती परिजनों के बारे में बात जरूर करती। घर से कई दिनों तक फोन नहीं आने व समय पर जेब खर्च नहीं मिलने की बात उसने बताई थी। कुछ समय पूर्व उसने परिजनों से रुपयों की मदद मांगे, लेकिन नहीं मिलने से वह दुखी रहने लगी। उसने खुदकुशी का कदम उठाने की बात भी कही। जब वह एेसी बात करती उसे एेसा करने से मना भी किया। वही गम में डूबे परिजन किसी से बात करने की स्थिति में नहीं थे। मृतका के परिवार में पिता पेशे से किसान है। भाई अभिषेक है वह भोपाल से इंजीनियरिंग कर रहा है। वहीं उसकी बड़ी बहन विजया भी नौकरी करती है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned