scriptMicro, Small and Medium Enterprises Minister Bhanu Pratap Singh Verma | बैंकों पर सख्त हुई मोदी सरकार, केंद्रीय मंत्री ने दे दी चेतावनी | Patrika News

बैंकों पर सख्त हुई मोदी सरकार, केंद्रीय मंत्री ने दे दी चेतावनी

केंद्रीय एमएसएमई राज्य मंत्री वर्मा बोले- बिना कारण आवेदन रिजेक्ट करने पर बैंक मैनेजर व फील्ड ऑफिसर पर होगी कार्रवाई...>

इंदौर

Updated: April 26, 2022 02:44:21 pm

इंदौर। लघु उद्यमियों को प्रोत्साहित करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम (पीएमईजीपी) कार्यक्रम शुरू किया है। केंद्रीय एमएसएमई राज्य मंत्री भानुप्रताप सिंह वर्मा ने स्वीकार किया कि इस योजना को बैंकें ही पलीता लगा रही हैं। एक साल में लगभग 62 हजार आवेदन में से मात्र 12900 स्वीकृत किए हैं। मप्र में भी स्थिति बहुत अच्छी नहीं है। सरकार ने बैंकों को आवेदन रिजेक्ट करने के लिए बैंक मैनेजर व फील्ड ऑफिसर की जवाबदेही तय करने के लिए कहा है।

msme.png

आवेदन रिजेक्ट करने का कारण स्पष्ट नहीं करने पर बैंक प्रबंधन द्वारा इन पर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा, योजना में लोन राशि दोगुनी की जा रही है। अब मेन्यूफेक्चरिंग यूनिट के लिए 25 से बढ़ाकर 50 व सर्विस के लिए 10 से बढ़ाकर 20 लाख तक का लोन दिया जा सकेगा।

वर्मा (Bhanu Pratap Singh Verma) को लघु उद्योग भारती के 29वें स्थापना दिवस कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। उन्होंने स्थानीय एमएसएमई सेंटर के अधिकारी द्वारा मंच से मोबाइल नंबर शेयर नहीं करने पर नाराजगी जताते हुए कहा, जनता के काम ही हमारी प्राथमिकता है। कोरोनाकाल के बाद लघु उद्योगों ने ही देश की अर्थव्यवस्था को सुधारा है। जीडीपी में हमारी हिस्सेदारी 30 प्रतिशत है। निर्यात में इनका हिस्सा 50 फीसदी तक होता है। केंद्र सरकार का लक्ष्य इनकी संख्या 6.5 करोड़ से बढ़ाकर 15-16 करोड़ करने की है। इससे जीडीपी में इनकी हिस्सेदारी 45 प्रतिशत तक हो सकेगी। कार्यक्रम में प्रदेश के एमएसएमई मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा, मंत्री उषा ठाकुर व सांसद शंकर लालवानी मौजूद थे।

indore1.jpg

इंदौर की महिला उद्यमिता देश की प्रेरणा

मंत्री वर्मा ने कहा, मप्र में जिस तरह काम किया जा रहा है, इससे भविष्य में सरकार की ग्रोथ में एमएसएमई की अहम भूमिका होगी। उप्र में भी योगी सरकार इनकी संख्या तीन गुना तक बढ़ाने जा रही है। प्रदेश में भी पीएमईजीपी के लोन बहुत कम संख्या में स्वीकृत हो रहे हैं। बीते वित्तीय वर्ष में 16164 में से 2852 आवेदन ही स्वीकृत किए गए हैं। इंदौर के लिए सराहनीय बात है कि 505 आवेदन स्वीकृत किए, जिसमें 200 महिला उद्यमियो के हैं। यह पूरे देश के लिए प्रेरणा की बात है। महिला उद्यमी आगे आएं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन को आकर्षित करती है कछुआ अंगूठी, लेकिन इस तरह से पहनने की न करें गलतीज्योतिष: बुध का मिथुन राशि में गोचर 3 राशि के लोगों को बनाएगा धनवानपैसा कमाने में माहिर माने जाते हैं इस मूलांक के लोग, तुरंत निकलवा लेते हैं अपना कामजुलाई में चमकेगी इन 7 राशियों की किस्मत, अपार धन मिलने के प्रबल योगडेली ड्राइव के लिए बेस्ट हैं Maruti और Tata की ये सस्ती CNG कारें, कम खर्च में देती हैं 35Km तक का माइलेज़ज्योतिष: रिश्ते संभालने में बड़े कच्चे होते हैं इस राशि के लोगजान लीजिए तुलसी के इस पौधे को घर में लगाने से आती है सुख समृद्धिहाथ में इन निशान का होना मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होने का माना जाता है संकेत

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: फ्लोर टेस्ट के खिलाफ शिवसेना की अर्जी सुप्रीम कोर्ट में मंजूर, आज शाम 5 बजे होगी सुनवाईMaharashtra Political Crisis: 30 जून को फ्लोर टेस्ट के लिए मुंबई वापस पहुंचेगा शिंदे गुट, आज किए कामाख्या देवी के दर्शनMumbai News Live Updates: फ्लोर टेस्ट के खिलाफ शिवसेना की अर्जी सुप्रीम कोर्ट में मंजूर, आज ही होगी सुनवाईनवीन जिंदल को भी कन्हैया लाल की तरह जान से मारने की मिली धमकी, दिल्ली पुलिस से की शिकायतUdaipur Kanhaiya Lal Murder: बैकफुट पर गहलोत सरकार, अब मंत्री बोले, 'ऐसे लोगों को ठोके पुलिस' और दी जाए 'फांसी'Udaipur Murder Case: राजस्थान में एक माह तक धारा 144, पूरे उदयपुर में कर्फ्यू, जानिए अब तक की 10 बड़ी बातेंMohammed Zubair’s arrest: 'पत्रकारों को अभिव्यक्ति के लिए जेल भेजना गलत', ज़ुबैर की गिरफ्तारी पर बोले UN के प्रवक्ताGST Council Meeting: महंगाई की मार! ब्रैंडेड पनीर-दही समेत कई चीजें होंगी महंगी, बैंक की इस सर्विस भी लगेगा टैक्स
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.