VIDEO : उद्योगपति के सामने हाथ जोडक़र बोलते थे शिवराज - सिर्फ समिट में आकर मेरी इज्जत रख लीजिए : मंत्री वर्मा

मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने प्रदेश की ब्यूरोक्रेसी को लिया आड़े हाथ

नीतेश पाल @ इंदौर. प्रदेश के पीडब्ल्यूडी मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव के साथ पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय के साथ ही प्रदेश की ब्यूरोक्रेसी को आड़े हाथों लिया। वर्मा का कहना है कि आईएएस एसोसिएशन की अध्यक्ष गौरी सिंह ने प्रमुख सचिव रहे विवेक अग्रवाल को लेकर मुख्य सचिव को जो पत्र लिखा है उसके पीछे की कहानी कुछ और है। ये आईएएस ओर आईपीएस के बीच का झगड़ा है। इसमें सरकार का कोई रोल नही है।

वर्मा का कहना है कि भाजपाइयों से बड़ा कोई नहीं हो सकता है, गोपाल भार्गव ने झाबुआ में जो बयान दिया था, इंदौर आकर उस बयान से पलट गए वही पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा मैग्निफिसेंट एमपी के आयोजन पर सवालिया निशान लगाने के मामले पर सज्जन सिंह वर्मा जमकर बरसे उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अब तक कई समिट करवा चुके हैं, चौहान बिजनेसमेन के सामने हाथ जोडक़र खड़े होते थे, कहते थे कि भले ही निवेश ना करें, पर समिट में आकर मेरी इज्जत बचा लें, वहीं मुख्यमंत्री कमलनाथ के एक फोन पर ना सिर्फ बिजनेसमैन चलकर आए हैं बल्कि रिजल्ट ओरिएंटेड मैग्निफिसेंट आयोजन का सार्थक परिणाम भी जल्द ही सबके सामने आएगा।

वहीं भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय पर कटाक्ष करते हुए मंत्री वर्मा ने कहा जो खुद जनता की नजरों से गिर चुके हैं और मध्य प्रदेश से बाहर का रास्ता देखने को मजबूर हो चुके थे, वह सरकार क्या गिराएंगे? उन्होंने चुटकी लेते हुए कहा कि पुरुष जन्म मिलने के बावजूद पुरुषार्थ करने के बजाए साड़ी पहनकर महिला का स्वांग रचा कर कैलाश विजयवर्गीय राजनीति कर रहे हैं।

रीना शर्मा
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned