झूम कर आया मानसून, तीन घंटे में बरसा डेढ़ इंच, मौसम विभाग ने जारी किया ये अलर्ट

झूम कर आया मानसून, तीन घंटे में बरसा डेढ़ इंच, मौसम विभाग ने जारी किया ये अलर्ट

Hussain Ali | Publish: Jun, 25 2019 12:28:28 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

जून में अब तक 2.5 इंच से ज्यादा बारिश, दो दिन में झमाझम बारिश की संभावना

इंदौर. प्रदेश में मानसून की दस्तक के साथ ही शहर में देर रात तक झमाझम बारिश का दौर चला। करीब तीन घंटे में डेढ़ इंच बारिश रिकॉर्ड की गई। जून में अब तक 2.5 इंच बारिश हो चुकी है। मौसम विभाग की माने तो अगले दो दिनों में मानसूनी झमाझम की पूरी संभावना है। सोमवार को हुई प्री मानूसन की जोरदार बारिश ने पूरे शहर को तरबतर कर दिया। मौसम खुशनुमा हो गया, लेकिन सडक़ों पर पानी भरने से ऑफिस से लौटते लोगों को घर पहुंचने में परेशान होना पड़ा। मौसम विभाग ने इंदौर-उज्जैन संभाग में भारी बारिश की चेतावनी देते हुए अलर्ट जारी किया है। मालवा-निमाड़ के सभी जिलों में अच्छी बारिश की संभावना है।

indore

रविवार को हुई बारिश के बाद सोमवार को सुबह से ही आसमान साफ और धूप खिली हुई थी। दिन भर ठंडी हवाएं बहती रही। शाम तक आसमान साफ नजर आ रहा था। करीब 7 बजे के आसपास आसमान पर काली घटाओं ने डेरा डाला और बारिश शुरू हुई। देखते-देखते आधे घंटे में पूरे शहर को तरबतर कर दिया। इस दौरान करीब एक इंच से अधिक बारिश दर्ज की गई। करीब आधा घंटा बारिश रुकी रही। इसके बाद 9 बजे से एक बार फिर पानी बरसना शुरू हुआ, जो करीब एक घंटे तक बरसता रहा। रात 11 बजे तक रुक-रुक कर 1.5 इंच बारिश हो चुकी थी। जून में पिछले साल इन्हीं दिनों तक 3 इंच पानी गिरा था।

indore

मानसून ने छिंदवाड़ा की ओर से प्रदेश में दस्तक दी

मौसम विभाग के अनुसार सोमवार को दक्षिण-पश्चिम मानसून ने छिंदवाड़ा की ओर से प्रदेश में दस्तक दी। इसके बाद मानूसन खंडवा, मंडला व अन्य जिलों में फैल गया। अनेक स्थानों पर जोरदार बारिश हुई। अधिकतम तापमान 2 डिग्री की गिरावट के साथ 35.2 डिग्री रहा। न्यूनतम तापमान 22.5 डिग्री दर्ज किया गया। हवाओं की दिशा उत्तर-पश्चिमी रही और शाम को 30 से 40 किमी की रफ्तार से चली। बताया जा रहा है, प्रदेश के ऊपरी हिस्से में चक्रवात बना हुआ है।

स्कीम 74 में घरों में घुस गया पानी

स्कीम न. 74 में सोमवार को हुई बारिश से लोगों के घरों में पानी घुस गया। रहवासी संघ के अध्यक्ष सुभाष सिंह तोमर के मुताबिक, पानी की निकासी नहीं होने से घरों में पानी घुसा। पहले यहां नाला था लेकिन उसे बंद करने के बाद आइडीए ने दुकानें बेच दी। दुकानें बनने के कारण पानी की निकासी बंद हो गई है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned