100 से ज्यादा यूनिट खर्च होते ही हट रहा संबल, आ रहे भारी बिल

100 से ज्यादा यूनिट खर्च होते ही हट रहा संबल, आ रहे भारी बिल

Hussain Ali | Updated: 20 Jul 2019, 01:10:21 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

अब नया सवेरा : 10 माह 200 रुपए में गरीब बंगलों को रोशन किया, अब आ रहे 5 हजार के बिल

इंदौर. रुपए में गरीब बंगलों को रोशन करने वालों को इस माह से 5 हजार रुपए तक के बिल आ रहे हैं। ऐसे गरीब उपभोक्ता बिजली कंपनी के चक्कर काट रहे हैं। कंपनी ने ऐसे उपभोक्ताओं पर 100 यूनिट के बाद वास्तविक खपत का बिल लगाना शुरू कर दिया है।

must read :कलियुग का मानव गलत काम में लगा है, यह कलियुग नहीं करयुग है : पं. शास्त्री

राज्य सरकार ने संबल योजना को परिवर्तित कर नया सवेरा नाम से 100 यूनिट तक बिजली बिल माफ करने के साथ अब बाकी की खपत पर पूरा बिल लेने के निर्देश जारी कर दिए हैं। बिजली कंपनी ने इस माह से वास्तविक खपत में से 100 यूनिट की राशि कम कर बिल जारी कर दिए। इससे योजना के तहत रजिस्टर्ड उपभोक्ताओं के होश उड़ गए। ऐसे उपभोक्ता 10 माह से 600 से अधिक यूनिट की खपत कर सिर्फ 200 रुपए दे रहे थे। बाकी राशि राज्य शासन द्वारा भरी जा रही थी। मप्र पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी को इससे काफी घाटा हो रहा था। इंदौर जिले के ही 50 करोड़ रुपए सब्सिडी के शासन से नहीं मिल पाए हैं। गौरतलब है, शहर में 1 लाख 12 हजार और ग्रामीण क्षेत्र में लगभग 1 लाख उपभोक्ता संबल योजना का लाभ उठा रहे थे।

गरीब बंगले वालों की जांच शुरू
संबल योजना में ऐसे कई गरीब और पॉश कॉलोनी में रहने वाले उपभोक्ताओं ने रजिस्ट्रेशन करवा लिया। घर में एसी, टीवी, फ्रिज के साथ कई उपकरण 200 रुपए प्रतिमाह में जला रहे हैं। इन्हें योजना से हटाने के लिए शासन के निर्देश पर जांच शुरू की गई है।

योजनानुसार बिल

राज्य शासन ने संबल योजना को बदलकर नया सवेरा कर दिया है। इसमें 100 यूनिट तक खपत वाले गरीब उपभोक्ताओं को लाभ मिलेगा। योजना में रजिस्टर्ड उपभोक्ता के बिजली बिल वास्तविक खपत के हिसाब से गणना कर भेजे जा रहे हैं। 100 यूनिट की सब्सिडी घटाकर बाकी यूनिट का बिल दिया जा रहा है।- सुब्रतो राय, मीडिया प्रभारी

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned