किसान के मूकबधिर बेटे ने प्रदेश में किया टॉप, भावुक पिता बोले - हम तो उससे बात भी नहीं कर पाते थे...

किसान के मूकबधिर बेटे ने प्रदेश में किया टॉप, भावुक पिता बोले - हम तो उससे बात भी नहीं कर पाते थे...

Reena Sharma | Publish: May, 15 2019 03:17:34 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

मूकबधिर संस्था के स्टूडेंट श्याम बिरला ने रोशन किया शहर का नाम

इंदौर. माध्यमिक शिक्षा मंडल ने बुधवार को दसवीं-बारहवीं के परीक्षा परिणाम घोषित कर दिए हैं। इसमें इंदौर के एक मूकबधिर छात्र ने प्रदेश की मेरिट लिस्ट में स्थान प्राप्त कर शहर का नाम रोशन किया है। श्याम बिरला ने 10वीं की मेरिट लिस्ट में दूसरा स्थान प्राप्त किया है। श्याम को 400 में से 319 अंक प्राप्त हुए। वे इंदौर के स्कीम नंबर 71-बी मूक बधिर संस्था में बचपन से ही रहते है और संस्था की डीफ एंड डम्ब मल्टीपरपज ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट से उन्होंने शिक्षा प्राप्त की है।

दोस्त घर लौट गए, लेकिन श्याम डटा रहा

खुशी के इस मौके पर जब संस्था संचालिका मोनिका पंजाबी से बात की तो उन्होंने कहा कि श्याम नर्सरी कक्षा से ही हमारी एकेडमी में पढ़ रहा है और हमेशा से ही पढऩे में बहुत होशियार भी है। हमेशा कुछ नया सीखने की उत्सुकता हमने उसमें अकसर देखी है। समर कैंप के दौरान भी उसके सारे दोस्त घर लौट गए, लेकिन वो आखिर तक क्लासेस अटैंड करता रहा। दरअसल कैंप में जनरल नॉलेज एजुकेशन लैक्चर्स चल रहे थे और श्याम का जनरल नॉलेज भी बहुत अच्छा है।

संस्था ने बनाया काबिल

श्याम के पिता भरत बिरला ने कहा कि बेटे की सफलता का पूरा श्रेय एकेडमी और प्रिंसिपल उषा पंजाबी को देंगे क्योंकि हमें तो साइन लैंग्वेज भी नहीं आती है। हम बेटे से बात भी नहीं कर पाते थे। उन्होंने बेटे को काबिल बना दिया जो हमारे लिए गर्व का विषय है। श्याम अब आगे बीकॉम के बाद एमबीए की पढ़ाई करना चाहता है। श्याम ने 79.75 प्रतिशत अंक प्राप्त किए हैं और अब वे आगे चलकर सामाजिक श्रेत्र में भी काम करना चाहते हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned