MP Election -2018, गोलू ने जीतू को लौटाया, बोले-मैं तो लडूंगा

MP Election -2018, गोलू ने जीतू को लौटाया, बोले-मैं तो लडूंगा

Uttam Rathore | Publish: Nov, 10 2018 11:30:03 AM (IST) | Updated: Nov, 10 2018 11:30:04 AM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

एक नंबर विधानसभा सीट पर घमासान...टिकट देकर वापस लेने पर पार्टी के फैसले से नेता नाराज

इंदौर.
एक नंबर विधानसभा में कांग्रेस नेताओं के आपस में लडऩे से पार्टी का नुकसान न हो, इसके लिए प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष जीतू पटवारी शुक्रवार को पार्षद पत्नी का निर्दलीय फॉर्म भरने वाले गोलू अग्निहोत्री को मनाने पहुंचे। दोनों के बीच काफी देर तक बातचीत हुई, लेकिन कोई हल नहीं निकला और गोलू ने पटवारी को बेरंग लौटाते हुए चुनाव लडऩे की बात कही है। इसके साथ ही एक नंबर में उनके समर्थक और कांग्रेस पदाधिकारी मिलाकर १०० से ज्यादा नेताओं ने इस्तीफा देने की तैयारी अलग कर ली है, क्योंकि टिकट देकर वापस लेने पर पार्टी के फैसले से गोलू सहित अन्य नेता नाराज हैं।

कांग्रेस में टिकट वितरण के बाद सबसे ज्यादा घमासान अगर कहीं मचा हुआ है तो वह है एक नंबर विधानसभा। यहां पर पार्टी ने पहले गोलू अग्निहोत्री की पार्षद पत्नी प्रीति अग्निहोत्री को प्रत्याशी बनाया, लेकिन एक नंबर से टिकट की दावेदारी करने वाले संजय शुक्ला के विरोध करने के चलते पार्टी ने टिकट बदलकर उन्हें प्रत्याशी घोषित कर दिया। इससे खफा गोलू ने अपनी पत्नी प्रीति को चुनावी मैदान में उतारने के लिए निर्दलीय फॉर्म भरवा दिया। साथ ही पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के समक्ष सवाल उठाया कि मेरा क्या कसूर था, जो दूसरी बार टिकट देकर काट दिया गया, क्योंकि पिछले विधानसभा में कांग्रेस ने गोलू को अपना प्रत्याशी घोषित करते ही संजय शुक्ला ने विरोध कर दिया और फिर दीपू यादव को चुनावी मैदान में उतारा गया था। साथ ही कमलेश खंडेलवाल ने दावेदारी करने के बावजूद टिकट न मिलने पर निर्दलीय चुनाव लड़ा। इस बार भी एक नंबर विधानसभा में ऐसा ही हुआ, क्योंकि गोलू की पार्षद पत्नी का टिकट काटकर संजय को दिया गया, तो उनके सहित कमलेश ने फिर निर्दलीय फॉर्म भर दिया।

कांग्रेस नेताओं के आपस में लडऩे से पार्टी का नुकसान न हो इसके लिए गोलू को मनाने शुक्रवार को प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष और राऊ से कांग्रेस प्रत्याशी जीतू पटवारी उनके पास पहुंचे। डेमेज कंट्रोल के लिए पहुंचे जीतू और गोलू के बीच करीब एक घंटे तक बंद कमरे में बातचीत हुई, लेकिन गोलू नहीं माने एवं पटवारी को यह कहकर बेरंग लौटा दिया कि फॉर्म वापस नहीं लूंगा और चुनाव जरूर लड़ूंगा। इस फैसले को सुनने के बाद पटवारी भी निकल गए।

आज संजय जा सकते हैं मनाने
प्रीति अग्निहोत्री का टिकट तय होने के एक दिन पहले तक साथ घूमने और खाना-खाने वाले गोलू व संजय में अचानक खाई बढ़ गई, क्योंकि पार्टी ने संजय को प्रत्याशी न बनाते हुए प्रीति को उम्मीदवार घोषित कर दिया था। इससे खफा संजय ने गोलू के खिलाफ बगवात का बिगुल बजा दिया और प्रदेश प्रभारी दीपक बाबरिया पर टिकट बेचने का आरोप तक लगा दिया। साथ ही निर्दलीय चुनाव लडऩे की घोषणा अलग कर दी। एक नंबर में मचे बवाल को देखते हुए पार्टी ने टिकट बदल दिया और प्रीति की जगह उन्हें प्रत्याशी घोषित कर दिया। इससे नाराज गोलू ने संजय के राजनीतिक आका सुरेश पचौरी पर टिकट बेचने का आरोप लगाया। इन दोनों नेताओं के चुनावी मैदान में उतरने से पार्टी को नुकसान न हो इसके लिए जहां कांग्रेस पदाधिकारी समझौता कराने में लगे हैं, वहीं गोलू को मनाने के लिए आज कांग्रेस प्रत्याशी संजय शुक्ला उनके घर जा सकेत हैं। इसके साथ ही कमलेश खंडेलवाल को भी मनाने का काम चल रहा है ताकि चुनाव में ज्यादा नुकसान न हो, क्योंकि शुक्ला पूरी ताकत से चुनाव लडऩे में लगे हैं। अगर यह कांग्रेसी एक हो गए तो सीट भी निकल सकती है। इसलिए शुक्ला अपने विरोधियों को बैठाने के काम में लग गए हैं।

भूल गए एकता का राग
एक नंबर में टिकट को लेकर जब घमासान मचा हुआ था, तब सारे नेताओं ने कसम खाई थी कि पार्टी जिसे भी टिकट देगी सब मिलकर उसका काम करेंगे। टिकट तय होते ही इस कसम के साथ एकता का गाया गया राग नेता भूल गए और एक-दूसरे के विरोध में झंडा उठा लिया। हालांकि पिछले चुनाव में भी ऐसे ही हुआ था।

 

Golu

एक-दो दिन में देंगे इस्तीफा
टिकट मिलने के बाद कट जाने से खफा गोलू अग्निहोत्री सहित उनकी पार्षद पत्नी प्रीति अग्निहोत्री, चार ब्लॉक अध्यक्ष, मंडलम् अध्यक्ष, हारे-जीते पार्षद प्रत्याशी और अन्य पदाधिकारी मिलाकर तकरीबन १०० नेता इस्तीफा देंगे। एक या दो दिन में यह इस्तीफे कांग्रेस कार्यालय गांधी भवन में दिए जाएंगे।

कमलेश दे सकते हैं गोलू का साथ
एक नंबर से टिकट न मिलने पर कमलेश भी नाराज हैं। पिछली बार की तरह इस बार भी उन्होंने निर्दलीय फॉर्म भरा है, लेकिन कांग्रेसियों का मानना है कि गोलू के समर्थन में कमलेश फॉर्म उठा सकते हैं। इसको लेकर दोनों के बीच चर्चाओं का दौर जारी है। नाम वापसी की आखिरी तारीख तक समझौता हो सकता है।


महिलाओं के सम्मान में कल पैदल मार्च
कांग्रेस से दो बार टिकट मिलने के बाद कट जाने पर एक नंबर विधानसभा के नेता गोलू अग्निहोत्री ने बगावत का बिगुल बजा दिया है। एक तरफ जहां उन्होंने चुनावी मैदान में अपनी पत्नी को उतार रहे हैं, वहीं रविवार को अपनी ताकत दिखाने के लिए महिलाओं के सम्मान में पैदल मार्च निकालेंगे। दो बार टिकट मिलने के बाद कट जाने से खफा गोलू अपनी ताकत दिखाने के साथ जनता का समर्थन मांगने रविवार को निकलेंगे। वे महिलाओं के सम्मान में पैदल मार्च निकालेंगे जो कि सुबह १० बजे बड़ा गणपति चौराह से शुरू होगा। इके बाद नेमीनाथ चौक, मल्हारंगज, कैलाश मार्ग, अंतिम चौराहा, हुकुमचंद कॉलोनी, जय भावनी नगर, राज नगर और नगीन नगर होते हुए कालानी नगर में समाप्त होगा। इस दौरान गुंडगर्दी के खिलाफ और महिलाओं के सम्मान की रक्षा को लेकर आवाज उठाई जाएगी। पैदल मार्च में अच्छी-खासी भीड़ जुटे इसके लिए गोलू के समर्थक काम पर लग गए हैं।

 

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned