scriptMP Politics: सबसे बड़ी जीत इंदौर के नाम…फिर भी मोदी कैबिनेट में नहीं शामिल हो पाएं लालवानी…ये है कारण | MP Politics:Shankar Lalwani could not join Modi cabinet | Patrika News
इंदौर

MP Politics: सबसे बड़ी जीत इंदौर के नाम…फिर भी मोदी कैबिनेट में नहीं शामिल हो पाएं लालवानी…ये है कारण

MP Politics: मालवा-निमाड़ की राजनीतिक बिसात पर भाजपा ने खेला आदिवासी कार्ड, धार की सांसद को दिल्ली दरबार में लिया, बड़ी जीत वाले चेहरे संगठन मजबूत करेंगे

इंदौरJun 11, 2024 / 08:58 am

Ashtha Awasthi

Modi cabinet

Modi cabinet

MP Politics: मध्यप्रदेश की राजनीति में मालवा-निमाड़ अपना एक अलग ही महत्व रखता है। माना जाता है कि यहां पर जिसका दबदबा रहता है प्रदेश में उसकी सरकार बनती है। लोकसभा चुनाव में भी कांग्रेस यहीं की दो सीटों का दावा कर रही थी, लेकिन भाजपा ने सभी 8 सीटों पर अपना परचम लहरा दिया। खरगोन लोकसभा को छोडकऱ अन्य 7 सीटों पर तो जीत का आंकड़ा भी बढ़़ गया है।

सावित्री ठाकुर को मंत्री बनाकर सबको चौंका दिया

रतलाम-झाबुआ से सांसद बनीं अनिता नागर सिंह चौहान को छोडकऱ शेष छह सांसद दूसरी बार जीतकर दिल्ली पहुंचे हैं, तो तीसरी बार जीतने वालों में मंदसौर के सांसद सुधीर गुप्ता भी है। मंत्री पद की चल रही कवायदों में प्रमुख नाम इंदौर से सांसद शंकर लालवानी और मंदसौर से सुधीर गुप्ता का भी था। पार्टी ने धार की सावित्री ठाकुर को मंत्री बनाकर सबको चौंका दिया। ऐसा कर एक तीर से दो निशाने लगाए गए। महिला कोटा पूरा करने के साथ में आदिवासी वर्ग को भी प्रतिनिधित्व दिया गया। इस फेर में गुप्ता व लालवानी मोदी 3.0 सरकार में शामिल नहीं हो पाए।
ये भी पढ़ें: MP Monsoon: होने वाली है मानसून की एंट्री…35 जिलों में IMD का अलर्ट जारी

इंदौर को मिलेगा ज्यादा महत्व

सावित्री ठाकुर शामिल कर मालवा-निमाड़ को साधने का प्रयास बताया जा रहा है। धार ऐसी लोकसभा है जो इंदौर, रतलाम, खरगोन, उज्जैन से जुड़ी हुई है। ठाकुर आदिवासी समाज से हैं। उनके बनाए जाने से आसपास के क्षेत्र पर मजबूत प्रभाव पड़ेगा, जिन पर विधानसभा चुनाव में भाजपा को नुकसान हुआ था। इसके अलावा धार लोकसभा की एक विधानसभा इंदौर जिले में भी आती है। इंदौर जिले का एक हिस्सा मंत्री का लोकसभ क्षेत्र रहेगा। विकास को लेकर होने वाली जिलेवार बैठक में वह अमह भूमिका में होगी।

सबसे बड़ी जीत इंदौर के नाम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार में मालवा-निमाड़ को धार से प्रतिनिधित्व मिल गया। धार सांसद को मौका दिया गया है, जबकि सात और सांसद मंत्री पद की बाट जोह रहे थे। दावेदारों की फेहरिस्त में इंदौर में सबसे बड़ी जीत दर्ज करने वाले सांसद शंकर लालवानी का नाम प्रमुखता से चल रहा था। मंदसौर के सांसद सुधीर गुप्ता तीसरी बार लोकसभा पहुंचे है, वे भी दावेदार थे। हालांकि सावित्री ठाकुर के मंत्री बनने का लाभ मालवा-निमाड़ में सबसे ज्यादा इंदौर को मिल सकता है, क्योंकि ठाकुर इंदौर से भी लगातार जुड़ी रहीं है।

Hindi News/ Indore / MP Politics: सबसे बड़ी जीत इंदौर के नाम…फिर भी मोदी कैबिनेट में नहीं शामिल हो पाएं लालवानी…ये है कारण

ट्रेंडिंग वीडियो