ज्योतिरादित्य सिंधिया हुए सक्रिय, बुलाए संभावित उम्मीदवारों के नाम

ज्योतिरादित्य सिंधिया हुए सक्रिय, बुलाए संभावित उम्मीदवारों के नाम

Hussain Ali | Updated: 21 Jul 2019, 03:38:01 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

एमपीसीए चुनाव : सिंधिया ने जगदाले व अन्य करीबियों सहित संगठन की गतिविधियों पर मांगी रिपोर्ट

इंदौर. पूर्व केंद्रीयमंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया मप्र क्रिकेट एसोसिएशन (एमपीसीए) में फिर सक्रिय नजर आ रहे हैं। पहले विधानसभा और फिर लोकसभा चुनाव के चलते सिंधिया करीब एक साल से संगठन की गतिविधियों से दूर थे। लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश के चलते दो साल पहले उन्होंने एमपीसीए के चेयरमैन पद से इस्तीफा दे दिया था।

must read : ज्योतिरादित्य सिंधिया ने हाईकोर्ट में जमा कराया 10 हजार रुपए का हर्जाना, ये है मामला

अब बीसीसीआई के कमेटी ऑफ एडमिनिस्ट्रेटर (सीओए) ने 15 सितंबर तक देश के सभी राज्य क्रिकेट संघों को चुनाव कराने के आदेश दिए हैं। हालांकि इस पर सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निर्देश नहीं होने से किसी भी राज्य संघ ने चुनाव की तैयारी शुरू नहीं की है। लेकिन, एनवक्त पर यदि चुनाव की नौबत आने की आशंका के चलते सिंधिया ने अपने गुट की तैयारियां शुरू कर दी हैं।

must read : स्कूल फ्रेंड से प्रेम विवाह कर परिवार से रह रहा था अलग, चाकू से गोद कर दी हत्या

सूत्रों के मुताबिक सिंधिया ने संजय जगदाले सहित अपने गुट की कोर कमेटी के सदस्यों से चुनाव को लेकर कानूनी पेंचीदगियों की जानकारी ली। चुनाव की स्थिति में कौन चुनावी मैदान में उतर सकते हैं, किन्हें अड़चन आएगी, नए कितन लोगों को चुनाव लड़ाया जा सकता है, विरोधी गुट से कौन-कौन मैदान में आ सकते हैं? जैसे तमाम बिंदुओं पर रिपोर्ट मांगी थी। करीब एक सप्ताह मंथन के बाद सिंधिया ने कोर कमेटी को तैयारी से जुड़े दिशा-निर्देश दिए हैं। जल्द ही सिंधिया इंदौर आकर एमपीसीए सदस्यों से मुलाकात करेंगे।

must read : 'भाजपा के गुंडों ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर बहुत जुल्म किए हैं, इनकी लिस्ट बनाओ'

अगस्त में एजीएम!

एमपीसीए के पुराने संविधान के मुताबिक अगस्त के अंतिम सप्ताह में संगठन की वार्षिक साधारण सभा बुलानी होती है। पहले एमपीसीए का कार्यकाल दो साल होता था, लेकिन लोढ़ा कमेटी की सिफारिशों में यह तीन साल का हो गया है। हालांकि २०१४ से अब तक एमपीसीए में चुनाव नहीं हुए हैं। उसी बाध्यता के चलते अगले माह एमपीसीए को एजीएम कराना होगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned