नगर निगम कार्रवाई: इंदौर में विवाद वाली जगहों से रात के अंधेरे में हटाए होर्डिंग-पोस्टर

स्वच्छता मुहिम को लेकर मंत्री व विधायक समर्थकों पर नगर निगम की सख्ती, कार्रवाई कर 1700 होर्डिंग्स किए जब्त

By: Uttam Rathore

Updated: 05 Sep 2019, 11:06 AM IST

इंदौर. नगर निगम ने शहर में नेताओं सहित किसी भी आयोजन को लेकर जगह-जगह टंगने वाले होर्डिंग-पोस्टर को उतारने की मुहिम शुरू की है। महापौर द्वारा होर्डिंग, बैनर और पोस्टर को लेकर चिट्ठी लिखने के बाद निगम की रिमूवल गैंग सक्रिय हुई। बुधवार को शहर में मुहिम चलाकर दिन में जहां तकरीबन 1500 होर्डिंग-पोस्टर हटाए, वहीं रात में यह आंकड़ा 200 के आसपास रहा। दिन और रात में कार्रवाई कर 1700 होर्डिंग्स जब्त किए गए हैं। दिन में कार्रवाई के दौरान जिन जगहों पर विवाद हुआ वहां पर रात के अंधेरे में होर्डिग्स-पोस्टर हटाए गए।

स्वच्छता सर्वेक्षण-2020 का त्रैमासिक सर्वे चल रहा है। पूरे शहर में भाजपा-कांग्रेस के नेताओं और अन्य संस्थाओं के होर्डिंग्स, बैनर और पोस्टर लगे हुए हैं जो कि शहर की सुंदरता पर दाग लगा रहे हैं। जन्मदिन, राजनीतिक रैली, गणेशोत्सव, धार्मिक व सामाजिक आयोजन और अन्य कार्यक्रमों को लेकर जगह-जगह होर्डिंग-पोस्टर लगे हुए हैं। निगम इन्हें हटाने की मुहिम लगातार चलाता है, लेकिन नेता और उनके अनुयायी मानते नहीं और फिर से बड़े-बड़े होर्डिंग्स टांग देते हैं। स्वच्छता सर्वेक्षण-2020 में शहर की सुंदरता के नंबर भी मिलना हैं, लेकिन होर्डिंग-पोस्टर की वजह से सुंदरता बिगड़ रही है। इसको देखते हुए महापौर मालिनी गौड़ ने कांग्रेस सरकार में मंत्रियों, भाजपा-कांग्रेस के विधायकों, भाजपा-कांग्रेस के शहर अध्यक्षों को चिट्ठी लिखी है। इसमें उन्होंने लिखा है कि इंदौर को स्वच्छ, सुंदर और स्मार्ट बनाने का प्रयास हम सभी कर रहे हैं। इंदौर ने दुनिया में ३ बार अपना नाम ऊंचा किया है। हम सफाई में चौथी बार भी नंबर वन आएंगे। इसलिए आप सभी से अपील है कि होर्डिंग्स, बैनर और पोस्टर न लगाएं और न ही जगह-जगह लगने दें।

महापौर गौड़ के पत्र लिखने के बाद निगम की रिमूवल गैंग भी सक्रिय हो गई और आयुक्त आशीष सिंह के आदेश पर अपर आयुक्त देवेंद्र सिंह के मॉनिटरिंग में होर्डिंग-पोस्टर हटाने की मुहिम बुधवार को चलाई। रिमूवल गैंग ने कार्रवाई करते हुए शहर में चौराहे-चौराहे टंगे नेताओं को उतारना शुरू किया और तकरीबन 1500 होर्डिंग-पोस्टर जब्त किए। दिन में कार्रवाई के दौरान कुछ जगह भाजपा-कांग्रेस के नेताओं ने होर्डिंग-पोस्टर हटाने का विरोध करते हुए कार्रवाई नहीं करने दी। इस पर रिमूवल गैंग लौट गई और वरिष्ठ अफसरों को अवगत कराया। इसके बाद विवादित जगहों पर रात में कार्रवाई करने का फैसला लिया गया। जिन जगहों पर विवाद हुआ, वहां पर निगम ने रात के अंधेरे में कार्रवाई कर 200 के आसपास होर्डिंग-पोस्टर जब्त किए हैं। निगम ने मुहिम चलाकर जहां कुल 1700 होर्डिंग-जब्त किए, वहीं आज फिर मुहिम चलाई जाएगी। निगम ने इस काम के लिए 10 गैंग को लगा रखा है।

यहां से हटाए...
निगम रिमूवल गैंग ने रात में जिन जगहों से होर्डिंग-पोस्टर हटाए, उनमें एमआर-10, परदेशीपुरा से पाटनीपुरा चौराहा, पाटनीपुरा से भमोरी, मालवा मिल चौराहा से राजकुमार ब्रिज, मालवा मिल चौराहा से हाईकोर्ट रोड, रीगल तिराहा से आरएनटी मार्ग और छावनी आदि जगह शामिल हैं। दिन में निगम ने खजराना से बंगाली चौराहा, एयरपोर्ट रोड, बड़ा गणपति, राजमोहल्ला, अन्नपूर्णा रोड, राजबाड़ा, गांधी प्रतिमा, नेहरू प्रतिमा, जवाहर मार्ग, रीगल पुल और एमजी रोड सहित पूरे शहर से होर्डिंग्स हटाए ताकि शहर की सुंदरता पर लगा यह दाग पूरी तरह साफ हो जाए।

सबसे ज्यादा होर्डिंग विधानसभा दो, चार और राऊ में
बताया जाता है कि विधानसभा विधानसभा क्षेत्र क्रमांक 2 और 4 और राऊ विधानसभा क्षेत्र में सबसे ज्यादा राजनीतिक, जन्मदिन और धार्मिक आयोजनों के बैनर, पोस्टर्स, होर्डिंग लगाए जा रहे हैं।

सतत जारी रहेगी कार्रवाई
विवाद वाले स्थानों से निगम ने रात के समय होर्डिंग-पोस्टर हटाए हैं। दिन में 1500 और रात में 200 के आसपास होर्डिंग्स हटाए गए हैं। महापौर-आयुक्त के निर्देश पर होर्डिंग्स-पोस्टर हटाने की यह कार्रवाई सतत जारी रहेगी।
- देवेंद्र सिंह, अपर आयुक्त, रिमूवल विभाग

Uttam Rathore Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned