स्कूल परिसर में युवक की चाकू गोदकर हत्या, मृतक का मोबाइल, नकदी व स्कूटी ले भागे हमलावर

स्कूल परिसर में युवक की चाकू गोदकर हत्या, मृतक का मोबाइल, नकदी व स्कूटी ले भागे हमलावर
murder

Krishnapal Singh Chauhan | Publish: Feb, 04 2019 04:02:05 AM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

- स्कूल परिसर में बच्चे क्रिकेट खेलने पहुंचे तो लाश देख घबराए

 

 


रावजी बाजार थाना क्षेत्र स्थित उर्दू स्कूल परिसर में युवक की चाकू गोदकर सनसनीखेज हत्या का मामला सामने आया है। रविवार सुबह क्षेत्र के कुछ बच्चे मैदान में क्रिकेट खेलने पहुंचे तो शव देख घबरा गए। उन्होंने लोगों को इसकी जानकारी दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने जांच की। गुमशुदा की तलाश में घटनास्थल पर पहुंचे परिजन ने शव की शिनाख्त की। अधिकारियों को आशंका है, बदमाशों ने लूट की नीयत से युवक की चाकू से गोदकर हत्या की। वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश मृतक का मोबाइल, नकदी व स्कूटी लेकर फरार हो गए। क्षेत्र में लगे सीसीटीवी कैमरे में संदिग्धों को देख पुलिस ने उनकी तलाश शुरू कर दी है। मौके पर एफएसएल अधिकारी बीएल मंडलोई, टीआई देवेंद्र कुमार, टीआई संतोष सिंह भी टीम के साथ पहुंचे और जांच की।

मोती तबेला स्थित शासकीय उर्दू प्राथमिक विद्यालय परिसर में रविवार सुबह खून से सनी लाश मिलने से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। पुलिस को जांच में मृतक की पहचान संबंधित कोई भी वस्तु या दस्तावेज नहीं मिले। नंदा नगर निवासी एक परिवार रावजी बाजार थाने में बेटे की गुमशुदगी दर्ज कराने पहुंचा। यहां से परिजन घटनास्थल पर पहुंचे तो शव देख बदहवास हो गए। सीएसपी जूनी इंदौर कैलाश मालवीय ने बताया, शव की पहचान करण (२७) पिता सुनील पारखे निवासी डॉक्टर कॉलोनी, नंदा नगर के रूप में हुई है। लूट के बाद युवक की हत्या होने के बिंदु पर भी मामले की जांच कर रहे हैं।

मालवीय ने बताया, शव के पास कुछ ईंट के टुकड़े मिले हैं। स्कूल की दीवार के साथ करीब १० फीट के दायरे में अधिक मात्रा में खून फैला मिला। देखकर एेसा लग रहा है कि मृतक ने हमलावर से काफी संघर्ष किया होगा, जहां उसका शव मिला वहां से कुछ दूरी पर उसका काले रंग का बैग भी मिला। उसमें हाथ के ग्लब्स, टिफिन व कान का टोपा मिला है। परिजन से सूचना मिली है कि मृतक जब काम से घर लौट रहा था तो उसके पास पांच हजार नकद, महंगा मोबाइल व एक्टिवा थी। इनमें से कुछ भी पुलिस को नहीं मिला।

लॉक में चाबी टूटने पर मामा की एक्टिवा लेकर निकला था घर

मृतक के मामा महेंद्र कोकरे ने बताया, उनकी गंगवाल बस स्टैंड पर विजय ऑटो मोबाइल नाम से शॉप है। शॉप के पास उनका घर भी है। भांजा करण उनके बेटे की मृत्यु होने के बाद से ही उनके काम में हाथ बंटाता है। वे उसे पांच हजार प्रतिमाह तनख्वाह देते हैं। शनिवार रात ८ बजे तनख्वाह लेने के बाद वह घर जाने लगा। उसकी एक्टिवा का लॉक खराब हो गया। लॉक में चाबी टूट जाने पर वह स्टार्ट नहीं हुई। उन्होंने भांजे को अपनी एक्टिवा घर जाने के लिए दी। रात में वह घर नहीं पहुंचा तो मां निलिमा व भाई तरुण उसे ढुंढते हुए गंगवाल बस स्टैंड पहुंचे। वे करण की एक्टिवा को वहां खड़ा देख घर लौट गए, लेकिन सुबह बेटे का फोन नहीं आने पर मां ने अपने भाई से संपर्क किया। सभी उसे कई स्थानों पर तलाशा फिर उसकी गुमशुदगी रावजी बाजार थाने में दर्ज कराने पहुंचे। मामा का कहना है, घटनास्थल पर उनके भांजे के पास से पांच हजार नकदी, २० हजार कीमत का मोबाइल व उनकी एक्टिवा नहीं मिली।

चाकू से ८ से अधिक वार किए, खून में मिले कई जूते के निशान

पुलिस को मृतक के कपाल व सिर के पिछले हिस्से में चार गहरे घाव मिले हैं। पेट, दोनों जांघ व पैर के निचले हिस्से में घाव मिले हैं। खून से सना चेहरा देख अधिकारी कयास लगा रहे हैं की दो से अधिक हमलावर ने वहां पड़ी ईंट से मृतक पर हमला किया, जिससे उसके दांत टूट गए। हालांकि एफएसएल जांच में घटनास्थल पर पड़ी टुटी ईंट में खून के निशान नहीं मिले हैं। जहां ब्लड स्पॉट मिले, वहां से ३ प्रकार के जूतों के निशान को रिकॉर्ड में शामिल किया है। शव करीब १२ घंटे पुरान था। अनुमान लगाया जा रहा है कि युवक पर रात १० से १२ बजे के बीच हमला हुआ होगा।

६ फीट से उंची है स्कूल की दीवार
उर्दू स्कूल के सामने एक डॉक्टर के घर से पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज बरामद किए हैं। इसमें रात के वक्त स्कूल परिसर के बाहर कुछ संदिग्ध घुमते दिख हैं। वर्तमान में स्कूल परिसर में कुल तीन स्कूल संचालित हो रहे हैं। परिसर के पिछले हिस्से की दीवार दस फीट ऊंची है। एेसे में मृतक के सामने की दीवार से वहां पहुंचने की आशंका जताई जा रही है।

नशाखोरी के लिए आते हैं बदमाश

पुलिस सूत्रों की मानें तो स्कूल परिसर में रात के वक्त सन्नाटा रहता है। एेसे में अंधेरे का फायदा उठाते हुए बदमाश वहां नशा खोरी करने पहुंचते हैं। संभवत: बदमाशों ने लूट की नीयत से मृतक पर हमला कर उसकी जान ली। पुलिस पूछताछ में मृतक के परिजन ने बताया, उसका कोई दोस्त नहीं था। वह काम खत्म कर सीधे घर पहुंचता था। एेसे में स्कूल की बाउंड्रीवाल को कूदकर मृतक वहां क्यों गया? इस बिंदु पर पुलिस जांच कर रही है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned