मंगलवार से नगर निगम की जनसुनवाई गरीबी उन्मूलन प्रकोष्ठ में

संभागायुक्त के आदेश के बाद निगम फिर लौटा अपने पुराने ढर्रे पर

 

इंदौर.
नगर निगम में अब जनसुनवाई दोबारा पुराने तरीके से शुरू होगी। सभी अधिकारी एक ही हॉल में मौजूद रहेंगे, और जनता की बात सुनेंगे। हालांकि अब जनसुनवाई पुराने हॉल के बजाए निगम मुख्यालय के मुख्य द्वार की ओर बने गरीबी उन्मूलन विभाग में होगी।

नगर निगम में सालभर पहले जनसुनवाई का पैटर्न बदल दिया गया था। निगम में जनसुनवाई अफसर अपने दफ्तरों में बैठकर ही करते थे। इसको लेकर कांग्रेस पार्षदों द्वारा संभागायुक्त को शिकायत की गई थी। जिसके बाद संभागायुक्त राघवेंद्रसिंह ने नगर निगम आयुक्त आशीष सिंह को आदेश देकर जनसुनवाई पुराने तरीके से एक ही हॉल में सभी अफसरों की मौजूदगी में करवाने के आदेश दिए थे। इसके बाद आगामी मंगलवार से निगम ने पुराने पैटर्न पर ही जनसुनवाई करने का निर्णय लिया गया है।
पुराने हॉल में बना दिए दफ्तर

नगर निगम की जनसुनवाई पूर्व में राजस्व बिल्डिंग के पास बने नए भवन के हॉल में होती थी। लेकिन पैटर्न बदलने के बाद इस हॉल का उपयोग नगर निगम ने दूसरे दफ्तरों के लिए करना शुरू कर दिया था। निगम ने यहां पर पार्टिशन करते हुए स्वास्थ्य स्थापना, जनकार्य स्थापना सहित अन्य विभागों के दफ्तर बना दिए हैं। जिसके चलते अब जनसुनवाई के लिए नए स्थान के तौर पर गरीबी उन्मूलन विभाग के हॉल का उपयोग किया जाएगा। हालांकि फिलहाल इस हॉल का ज्यादा उपयोग नहीं हो रहा है।

0 मंगलवार से जनसुनवाई नए सीरे से शुरू की जाएगी। इसमें नगर निगम के सभी अफसर मौजूद रहेंगे। जनसुनवाई निगम मुख्यालय के गरीबी उन्मूलन विभाग में की जाएगी। यहां पर जनता को तकलीफ न हो इसके लिए सभी व्यवस्थाएं की जा रही है।
- देवेंद्रसिंह, अपर आयुक्त

सुधीर पंडित
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned