दिवाली तक धार पहुंचेगी नई रेल लाइन

मिलेगा रोजगार, राह होगी आसान

इंदौर@ न्यूज टुडे.
इंदौर-धार-दाहोद रेल लाइन प्रोजेक्ट के लिए बजट में १२० करोड़ रुपए स्वीकृत किए गए हैं। जिस तेजी से काम चल रहा है, अंदाजा लगाया जा सकता है कि दिवाली तक रेल लाइन धार जिले की सीमा तक पहुंच जाएगी। इस प्रोजेक्ट में इंदौर से टिही तक लाइन शुरू हो चुकी है। यहां गुड्स ट्रेन का संचालन किया जा रहा है। सागौर के पास टनल बनाने का काम भी शुरू हो चुका है।

रेलवे ने धार जिले के गुणावद तक जमीन का अधिग्रहण किया है। इसके साथ बकसाना से गुणावद तक टुकड़ों में अर्थवर्क का काम शुरू हो चुका है। कुछ जगह रेलवे अपनी जमीन का चिह्नांकन कर रहा है। रेलवे अफसरों के अनुसार धार से सरदारपुर तक जमीन का चिह्नांकन हो चुका है। अधिग्रहण के लिए दस्तावेज मुख्यालय भेजे गए हैं। संभवत: इस वर्ष के अंत तक यह जमीन भी रेलवे के कब्जे में आ जाएगी।

22 नए रेलवे स्टेशन बनेंगे
इंदौर, सैफी नगर, लोकमान्य नगर, राजेंद्र नगर, राऊ, टिही, पीथमपुर, सागौर, गुणावद, धार, तिरला, अमझेरा, सरदारपुर, राजगढ़़, पानपुरा, उमरकोट, अंबलवानी, फतेहपुरा, झाबुआ, पिलोट, कतवारा होते हुए दाहोद।

मिलेगा रोजगार , राह होगी आसान
इस प्रोजेक्ट से जहां स्थानीय बेरोजगारों को काम मिलेगा, वहीं रेल लाइन बनने से लोगों को सफर के लिए विकल्प भी मिलेगा। इस प्रोजेक्ट में एक बड़ा हिस्सा आदिवासी बेल्ट का है। रेल लाइन शुरू होने पर इस क्षेत्र का विकास भी तेजी से होगा।

सरदारपुर तक जल्द ही
प्रोजेक्ट का काम तेजी से पूरा किया जा रहा है। धार जिले के गुणावद तक जमीन का अधिग्रहण हो चुका है। जल्द ही सरदारपुर तक की जमीन रेलवे को मिल जाएगी।
जितेंद्र कुमार जयंत, पीआरओ, रतलाम मंडल

ट्रेन बढ़े तो काम बने-प्लेटफॉर्म पांच और छह से अभी कम ट्रेनों का संचालन किया जा रहा है। इसलिए एस्केलेटर का उपयोग भी कम ही होगा। संभवत: एस्केलेटर सुविधा शुरू होने के बाद ट्रेनों का संचालन यहां से बढ़ा दिया जाएगा। इधर, इसी प्लेटफॉर्म पर बन रही लिफ्ट का काम भी अंतिम चरणों में है, जो मार्च अंत तक पूरा हो जाएगा।

 

अर्जुन रिछारिया Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned