नौ माह तक गर्भ में रखा, डिलेवरी के पहले ही मां ने लगा ली फांसी, यह था डर

पति ने पुलिस को बताया, प्रसव के लिए एक दिन बाद ही अस्पताल में भर्ती होने वाली थी

 

 

इंदौर. गर्भ में पल रहे बच्चे को एचआईवी न हो जाए, इस तनाव में आकर एक मां ने घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। गर्भवती पत्नी को फंदे पर झूलता देख पति ने उसे उतारा और हॉस्पिटल ले गया। जांच के दौरान डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया।

पति का कहना है, गर्भ में पल रहे बच्चे को गंभीर बीमारी न हो, इस डर से पत्नी ने यह कदम उठाया होगा। पुलिस के मुताबिक अन्नपूर्णा थाना क्षेत्र में 22 वर्षीय गर्भवती महिला ने बुधवार को फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। पति ने पुलिस को बताया, उसे व उसकी पत्नी को कुछ वर्ष पूर्व जांच रिपोर्ट से एचआईवी पॉजिटिव होने का पता चला। इसके बाद दोनों अपना नियमित उपचार कराने लगे। पत्नी जब गर्भवती हुई तो उसे चिंता सताने लगी कि कहीं गर्भ में पल रहा उनका बच्चा भी एचआईवी पीडि़त न हो जाए। अप्रैल माह के पहले सप्ताह में डॉक्टर ने डिलेवरी कराने की बात कही। बुधवार को वे पत्नी को हॉस्पिटल में भर्ती कराने वाले थे। महिला ने डिलेवरी पूर्व होने वाली खरीदारी भी की। मंगलवार रात करीब दो बजे पति की नींद खुली तो पत्नी कमरे में नहीं दिखी।

वे घर के अन्य कमरे में तलाशने पहुंचे तो उसे फंदे पर झूलता देख घबरा गए। पत्नी व होने वाले बच्चे को खोने से वे बदहवास हॉस्पिटल में बैठे रहे। वे बोले-पत्नी पिछले कुछ दिनों से तनाव में थी। उन्होंने बच्चे को कुछ नहीं होने की बात भी समझाई। बावजूद उसने यह कदम उठाया।

पति की तीसरी शादी

सूचना के बाद महिला की बहन भी परिजन के साथ हॉस्प्टिल पहुंची। उन्होंने बताया, उसकी पहली शादी कुछ माह ही चली। तलाक के बाद बहन ने दूसरी शादी कर ली। पहले पति से उसे पांच साल की एक बेटी है। इसके बाद उसने लव मैरिज कर ली। उनका आरोप है, बहन की दूसरी शादी के बाद से ही पति उसे मायके नहीं आने देता था। उसने छोटी बेटी से छेड़छाड़ का आरोप भी लगाया। पुलिस कार्रवाई होने के बाद दोनों परिवार में बातचीत बंद थी। उन्होंने बताया, जिस व्यक्ति से महिला ने शादी की थी, उसकी पहली पत्नी की मौत हो चुकी है। बाद में उसने दूसरी शादी कर पत्नी को छोड़ दिया। उनकी बहन से उसने तीसरी शादी की थी।

रीना शर्मा Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned