सर्मथकों को पद दिलाने में लगे एनएसयूआई राष्ट्रीय सचिव

- अवस्थी को बनाया प्रदेश सचिव तो अन्य की भी कर रहे तैयारी

By: Lakhan Sharma

Published: 20 Jul 2018, 11:02 AM IST


इंदौर।
प्रदेश के एनएसयूआई खेमे में इन दिनों शहर के शादाब खान के राष्ट्रीय सचिव बन जाने से हलचल मची हुई है। कारण है की शादाब ने अब दिल्ली में अपने पैर जमाना शुरू किए और लुपलाईन में पड़े अपने सर्मथकों को पद दिलवाना शुरू कर दिए हैं। हाल ही में अनुकुल अवस्थी को एनएसयूआई का प्रदेश सचिव बना दिया गया है। जो शादाब खान के पुराने सर्मथन हैं। इसके चलते अब एनएसयूआई के प्रदेश अध्यक्ष विपिन वानखेड़े के खेमे में भी हलचल है।
गौरतलब है की करीब दो माह पहले एनएसयूआई के राष्ट्रीय पदाधिकारियों की लिस्ट जारी हुई थी। मध्यप्रदेश खासकर इंदौर से भी कई पदाधिकारियों ने राष्ट्रीय पदाधिकारी बनने के लिए दावेदारी की थी। अलग अलग फेज में इसके लिए इंटरव्यू हुए। लेकिन इसमें विपिन खेमे के खिलाफ शुरूआत से संगठन चुनाव में लडऩे वाले शादाब खान ने बाजी मार ली और राष्ट्रीय सचिव बन गए। प्रदेश से दो लोगों को प्रदेश सचिव बनाया गया था जिसमें दूसरा आगर जिले से थे। दरअसल प्रदेश अध्यक्ष विपिन वानखेड़े लंबे समय से आगर जिले से विधानसभा चुनाव की तैयारी कर रहे हैं, इसके चलते उन्होंने संबधो को भुनाते हुए वहां से अपने के सर्मथक को पद दिलवाया। इधर अब शादाब ने अनुकुल के साथ ही प्रदेश के अलग अलग शहरों में अपने सर्मथकों को जुटाना शुरू कर दिया है। उधर उम्र के फेक् टर के चलते अब विपिन वानखेड़े सहित कई पदाधिकारी एनएसयूआई से बाहर हो जाएंगे। चुनाव के चलते अभी कार्यकर्ता बढ़ा दिया गया है।

- आने वाले चुनाव में पैनल उतारने की तैयारी
दरअसल विधानसभा चुनाव के बाद एनएसयूआई के संगठन चुनाव होना है। एसे में अब शादाब ने भी प्रदेश स्तर पर अपनी पैनल उतारने की तैयारी शुरू कर दी है। उधर विपिन वानखेड़े भले ही बाहर हो जाएं, लेकिन एनएसयूआई में दबदबा बनाए रखने के लिए प्रदेशभर में अपने उम्मीदवारों को लड़ाएगे। इसके चलते ही शादाब सर्मथकों को जुटाने में लगे हैं। ताकि आने वाले ६ महीने में वे अपने लिए ग्राउंड तैयार कर लें।

Lakhan Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned