scriptPatwari's arbitrariness, sir's notice | पटवारी की मनमानी, साहब का नोटिस | Patrika News

पटवारी की मनमानी, साहब का नोटिस

एक दर्जन से अधिक कामों में लापरवाही पर कार्रवाई, तबादला किया

इंदौर

Published: May 12, 2022 11:22:40 am

इंदौर. प्रशासनिक महकमे के सबसे छोटे सिपाही माने जाने वाले पटवारी बेलगाम हो गए हैं। उनसे काम कराना आसान नहीं है। कुछ तो अपने अफसरों की भी नहीं सुनते, आम जनता की सुनता तो दूर की बात है। ऐसे ही एक पटवारी को कारण बताओ नोटिस थमाया गया है। उसमें एक दर्जन से अधिक लापरवाहियों को उजागर किया गया। साथ में तबादला भी कर दिया।
पटवारी की मनमानी, साहब का नोटिस
पटवारी की मनमानी, साहब का नोटिस

जनता का सीधे तौर पर सबसे ज्यादा काम किसी से पड़ता है तो वह पटवारी है। इस बात का लाभ लेकर वे कोई भी काम आसानी से नहीं करते। जब तक उनसे सरकारी व्यवहार नहीं निभाया जाता तब तक कुछ नहीं होता है। पीडि़त भले ही कई चक्कर लगा ले। ऐसी ही लापरवाही करने वालों पर अब कार्रवाई होगी। शुरुआत राऊ एसडीओ प्रतुल्ल सिन्हा ने कर दी है। कल इंदौर कस्बे के पटवारी रितेश राणा को कारण बताओ नोटिस देकर सात दिन में जवाब मांगा है। तय सीमा में जवाब नहीं दिया जाता है तो एक पक्षीय कार्रवाई की तैयारी भी है।

बिना स्वीकृति के छुट्टी
रितेश राणा ने छुट्टी को लेकर आवेदन दिया था। वे 2 से 13 मई के बीच अवकाश पर जा रहे थे। इसका आवेदन 25 अप्रैल को दिया गया, जबकि अवकाश शुरू होने के 21 दिन पहले दिया जाना था। वहीं वह छुट्टी की मंजूरी बगैर आवेदन पर ही छुट्टी चला गया। इसकी जानकारी आरआई को भी नहीं दी और न ही किसी को प्रभार दिया। राजस्व निरीक्षक को भी जानकारी नहीं दी। बड़ी बात ये है कि पटवारी हलके भी किसी को सौंप कर नहीं गए। दशहरा मैदान पर अतिक्रमण हटाने को लेकर तहसीलदार ने निर्देश दिए थे, लेकिन आज तक कोई कार्रवाई नहीं की। ये सारे कृ्त्य शासकीय कार्य में लापरवाही के हैं। उसके ये कृत्य सिविल सेवा आचरण संहिता के प्रावधानों के तहत दंडनीय हैं। कारण बताएं कि आपके इस कृ्त्य के लिए क्यों न आपको निलंबित करते हुए आपके खिलाफ विभागीय जांच की जाए। एसडीओ सिन्हा ने कहा कि 18 मई तक जवाब दें, नहीं तो एकतरफा कार्रवाई होगी।
एक दर्जन से अधिक लोकायुक्त के केस
इंदौर में पटवारियों को लेकर खासी नाराजगी है। इसके चलते पीडि़त जनता सीधे लोकायुक्त पुलिस के पास जा रही है। कुछ वर्षों में अब तक एक दर्जन से अधिक पटवारी रंगेहाथ पकड़ा चुके हैं तो कुछ के घर छापामार कार्रवाई हुई।
ये थमाया नोटिस
प्रकरण की समीक्षा में पाया गया कि सुलक्षणा के आवेदन पत्र पर बारीकी से जांच किए बगैर रिपोर्ट पेश कर दी। इस्माइल खान को बतूल बी के मकान में निवास करना बताया। किरायानामा से संबंधित कोई दस्तावेज पेश नहीं किए गए। बतूल बी उसके परिवार की ही सदस्य है और उसके बाद भी इस्माइल को किराएदार होना बताया। उसके नाम से कोई चल-अचल संपत्ति न होने का प्रतिवेदन पेश किया गया। शासकीय अधिवक्ता ने तहसीलदार व आरआई के समक्ष यह जानकारी दी कि कस्बा इंदौर की एक भूमि के बटांकन के संबंध में प्रतिवेदन पेश करने के लिए उन्होंने कई बार आपसे संपर्क किया। तहसीलदार महेंद्र गौड़ ने भी बटांकन का प्रतिवेदन पेश करने के लिए कहा, लेकिन आज तक नहीं किया। छह अन्य मामलों में भी प्रतिवेदन पेश नहीं किए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

काशी विश्वनाथ मंदिर-ज्ञानवापी परिसर विवादः मस्जिद परिसर में जहां मिला शिवलिंग वो स्थल होगा सील, कोर्ट का आदेश, जानें क्या कहा DM ने...असम में बाढ़ से 7 जिलों के लगभग 57 हजार लोग प्रभावित, बचाव कार्य में जुटी इंडियन एयरफोर्सराजस्थान में तपिश और लू बनी ‘संजीवनी’, हुआ ये बड़ा फायदाCNG Price Hike: एक साल में CNG में 69.60% की बढ़ोतरी, जानें आपके शहर की लेटेस्ट कीमतअब हवाई सफर होगा महंगा! Jet Fule की कीमतें बढ़ने से पड़ेगा असरनार्थ कोरिया में फैला कोरोना, मदद के लिए आगे आया साउथ कोरियासोनिया गांधी का ये अंदाज पंसद आया, वे मुस्कुराई तो सभी कांग्रेसी भी मुस्कुराए, देखे पूरा वीडियोमहिला बीड़ी मजदूरों ने कहा, हज़ार बीड़ी बनाने पर मिलते हैं सिर्फ  80 रुपये
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.