हनी ट्रेप में उलझी पुलिस ने लाखों के जेवरातों पर नहीं दिया ध्यान

हनी ट्रेप में उलझी पुलिस ने लाखों के जेवरातों पर नहीं दिया ध्यान
Surat Crime News; पूर्व सरपंच ने बालिका से किया बलात्कार, गर्भवती

Lakhan Sharma | Publish: Oct, 06 2019 10:47:20 AM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

- लाखों के जेवर ले गया नौकर, पुलिस ने एक माह बाद दर्ज की एफआईआर
- हनी ट्रेप में उलझी पलासिया पुलिस अन्य मामलों में नहीं दे रही ध्यान

इंदौर। हनी ट्रेप मामले में सबसे पहला प्रकरण पलासिया पुलिस ने लगभग 20 दिन पहले दर्ज किया था। इसके बाद से ही पुलिस अन्य मामलों में ध्यान नहीं दे रही है, जबकि क्षेत्र में लगातार दूसरे अपराध भी हो रहे हैं। करीब एक माह पहले पत्रकार कॉलोनी स्थित एक ज्वेलर्स की दुकान से नौकर लाखों रूपए के जेवर लेकर फरार हो गया। तब से कई बार ज्वेलर्स ने थाने के चक्कर काटे। लेकिन एक माह से अधिक समय होने के बाद कल एफआईआर दर्ज कराई गई है।
फरियादी अजय खंडेलवाल ने पुलिस को बताया था की उनके यहां नौकर सावन उर्फ धर्मेंद्र जो तेलीबाखल, तेजाजी मंदिर के पास रहता था। वह हीरे, सोने के जेवर लेकर ३ सितंबर को सराफा के लिए निकला था। सावन का यह नियमित काम था। वह पिछले एक साल से अजय के यहीं रह रहा था और उनके यहीं काम करता था। सावन उस दिन शाम तक नहीं लौटा। उसका मोबाईल भी बंद आ रहा था। हम जब उसके घर तेली बाखल गए तो परिजनों ने बताया की वह तो पिछले तीन सालों से कभी घर ही नहीं आया। इसके बाद हमने रात में पुलिस थाना पलासिया पर आवेदन दिया। इसके बाद कई बार थाने गए लेकिन पुलिस ने प्रकरण दर्ज नहीं किया। पहले त्यौहारों का कहा तो बाद में हनी ट्रेप में उलझे होने की बात कही। पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार हनी ट्रेप के बीच थाने की पुलिस ने कई अन्य मामलों पर ध्यान नहीं दिया। जबकि क्षेत्र में दूसरे अपराध भी बढ़ते रहे। कई एफआईआर अब भी पुलिस नहीं कर रही है, सिर्फ आवेदन लेकर रख लिए गए हैं। थाना प्रभारी के व्यस्त होने के चलते अन्य सब इंस्पेक्टर जिनके पास एफआईआर कराने की जिम्मेदारी है, वे भी इस और ध्यान नहीं दे रहे हैं।

- रस्ते लगा देगा लाखों के जेवर
उधर व्यापारी को चिंता है की सावन को समय पर नहीं पकड़ा गया तो वह जो लाखों रूपए के जेवर लेकर गया है उन्हें रस्ते लगा देगा। कारण है की वह पिछले एक साल से यहीं रहकर काम कर रहा है इसलिए ज्वेलरी के सभी दुकानें और सामान समझता है। कारण है की ज्वेलर्स के द्वारा ग्राहकों की रिपेयरिंग वाली ज्वेलरी के साथ ही नई ज्वेलरी के लिए भी उसे ही भेजा जाता था। पुलिस ने कल मामला दर्ज किया है। अब तक उसे ढूंडने के कोई खास प्रयास ही नहीं किए, जिससे उसके शहर के बाहर जाने की बातें भी सामने आ रही है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned