कोरोना सैंपल लेने के लिए पुलिस को चलाने पड़े डंडे

स्वास्थ्य विभाग की टीम को दी थी धमकी

By: Mohit Panchal

Updated: 30 Jun 2020, 12:05 PM IST

इंदौर। दोबारा सैम्पल लेने में सरकारी महकमे को पसीने छूट रहे हैं। एक दल के साथ परिवार ने जमकर हुज्जत की। यहां तक की मारपीट की धमकी दे डाली। दल जब पुलिस को लेकर लौटा, तब भी वही रवैया था। आखिर में पुलिस को डंडे बरसाने पड़ गए।

मई में कोरोना पॉजिटिव आने वाले व उनके ७ हजार परिजन की दोबारा सैम्पलिंग की जा रही है। सभी एसडीएम को अपने-अपने थाना क्षेत्रों की जिम्मेदारी सौंपी गई है। प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग का दल पॉजिटिव मरीजों की जांच करने के साथ ये काम भी कर रहा है, जिन्हें एक ही जैसी समस्या आ रही है। जनता सैम्पल देने के लिए तैयार नहीं है। कल लालबहादुर शास्त्री नगर में जमकर बवाल हुआ। एक परिवार के चार सदस्यों का सैम्पल लेने गए दल को धमकी देकर भगा दिया।

परिवार का कहना था कि ये सब फर्जीवाड़ा चल रहा है। पहले भी हमें कोई बीमारी नहीं थी, लेकिन इलाज के नाम पर अस्पताल में पटक कर रखा। फिर से जांच के नाम पर आ गए हो। इस पर दल ने समझाने का प्रयास किया कि ऐसा नहीं है। रोज दो हजार की जांच होती है नाम मात्र के लोग ही पॉजिटिव आते हैं। समझाने पर भी नहीं माना और विवाद करने लग गया, जिसको देख उल्टे पैर लैटना पड़ा।

दल वहां से सीधे अन्नपूर्णा थाने पहुंच गया। थाना प्रभारी ने तुरंत बल उपलब्ध कराके टीम को फिर से भेजा। परिवार के सदस्य जवानों से भी बहस करने लग गए। नहीं मानने पर पुलिस को आखिर में डंडे चलाने पड़ गए। नजारा देखने के बाद आसपास के रहवासी भी इकट्ठा हो गए। उन्होंने परिवार को समझाया। साथ में सरकारी काम में बाधा डालने की धमकी भी दी गई तब जाकर उन्होंने सैम्पल दिया।

Mohit Panchal Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned