पोलिंग पार्टी नहीं हुई परेशान, इस तरह दी ईवीएम और सामग्री, रवाना हुए दल

पोलिंग पार्टी नहीं हुई परेशान, इस तरह दी ईवीएम और सामग्री, रवाना हुए दल

Hussain Ali | Publish: May, 18 2019 12:26:40 PM (IST) | Updated: May, 18 2019 12:29:02 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

कलेक्टर और उनकी टीम ने किया रतजगा, देर रात टेबलों पर रख दी सामग्री

इंदौर. इंदौर लोकसभा और धार की महू विधानसभा का चुनाव करवाने के लिए नेहरू स्टेडियम से पोलिंग पार्टियां रवाना होना शुरू हो गई। ये सिलसिला सुबह 8.30 बजे से शुरू हो गया था। जिला निर्वाचन का टेबल पर मशीन देने का फॉर्मूला सफल हो गया। इसके लिए कलेक्टर सहित उनके अधीनस्थों को रतजगा करना पड़ा। पहली बार पोलिंग पार्टी को परेशान नहीं होना पड़ा।

रविवार को होने वाले लोकसभा चुनाव के मतदान की सामग्री वितरण को लेकर कल शाम 5 बजे से नेहरू स्टेडियम में हलचल शुरू हो गई थी। प्रशासन के अफसर व नगर निगम के कर्मचारी पहुंच गए थे। असल काम रात १२ बजे बाद शुरू हुई। स्ट्रांग रूम को खोला गया और विधानसभा वार बने पंडालों में लगी टेबलों पर ईवीएम, वीवीपेड और सामग्री को रख दिया गया। इसके बाद में अधिकारियों ने बारीकी से सूची से मिलान कर दिया। ये सिलसिला सुबह 5 बजे तक चलता रहा। पूरे समय कलेक्टर लोकेश कुमार जाटव, एसएसपी रुचिवर्धन मिश्र, अपर कलेक्टर दिनेश जैन, कैलाश वानखेड़े, अजय देव शर्मा, शाश्वत शर्मा व राकेश शर्मा मौजूद थे।

सुबह 7 बजे से पहुुंचने लगे अधिकारी

सुबह 7 बजे से पोलिंग पार्टी के अधिकारी स्टेडियम में पहुंचना शुरू हो गए। गेट पर काउंटर लगा था जिस पर वे अपना ड्यूटी ऑर्डर दिखा रहे थे। जहां से उन्हें बता दिया गया कि उनकी ड्यूटी टेबल है । धीरे-धीरे पूरी टीम टेबल पर इक_ा हो गई जिन्हें सामग्री वहीं पर मिल गई। सामग्री की जांच करने व दल पूरा होने पर उन्हें बस की ओर रवाना कर दिया गया। इधर, सुबह 8.30 बजे पहली बस पोलिंग पार्टी को लेकर रवाना हो गई। सुबह 9 बजे तक जिम खाना मैदान से करीब 30 बसें और बंगला नंबर 57 से 20 बसें रवाना हो चुकी थीं। यहां की कमान अपर कलेक्टर बीबीएस तोमर, एसडीएम सुनिल झा और आईडीए के संपदा अधिकारी राजकुमार हलधर संभाल रहे थे।

विवादों से मिली मुक्ति

इंदौर में अब तक काऊंटर बनाकर पोलिंग पार्टी को सामग्री वितरण की जाती रही है। उस समय दल आपस में गुत्थमगुत्था होते थे और परेशानी भी उठानी पड़ती थी। इसको दूर करने के लिए अपर कलेक्टर कैलाश वानखेड़े ने नई प्लानिंग बनाकर कलेक्टर जाटव को सौंपी जो उन्हें जम गई। अमल में लागने के लिए कई विषयों पर मंथन हुआ।

रखा गया था चाय-नाश्ता

सुबह 7 बजे आने वाली पोलिंग पार्टी के लिए जिला निर्वाचन ने चाय-नाश्ते का प्रबंध करके रखा था। तय समय के हिसाब से 11 बजे तक सभी अपने अपने बूथ पर पहुंच जाएंगे जिसके बाद सभी को भोजन भी वहीं उपलब्ध करा दिया जाएगा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned