रोड शो के लिए मिनी ट्रक देखकर नाराज हुई प्रियंका, दादी इंदिरा गांधी की तरह बताते हुए लोगों ने किया याद

रोड शो के लिए मिनी ट्रक देखकर नाराज हुई प्रियंका, दादी इंदिरा गांधी की तरह बताते हुए लोगों ने किया याद

Reena Sharma | Publish: May, 14 2019 01:26:43 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

प्रियंका बोली, मेरे कारण ट्रैफिक रुका, आपको कष्ट हुआ होगा... माफी चाहती हूं

इंदौर. कांग्रेस के पक्ष में पहली बार इंदौर आईं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का रोड शो 1 घंटे 28 मिनट चला। राजमोहल्ला चौराहा पर भगतसिंह प्रतिमा पर पुष्पांजलि के बाद रोड शो में कांग्रेस नेताओं ने राजबाड़ा तक की 1.80 किलोमीटर के हिस्से में 200 से ज्यादा मंचों से प्रियंका गांधी का स्वागत किया। किसी ने उन्हें हार पहनाया तो किसी ने चित्र भेंट किए। एक व्यक्ति ने टोपी दी तो उन्होंने मुख्यमंत्री कमलनाथ को पहना दी।

कांग्रेस नेता गोलू अग्निहोत्री ने सफेद कबूतर दिया, तो प्रियंंका ने कबूतर उड़ाने से इनकार कर दिया। जब राजबाड़ा पर रोड शो खत्म हुआ तो प्रियंका ने करीब 20 मिनट के भाषण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरा। प्रियंका ने प्रधानमंत्री को जुमलेबाज बताते हुए इंदौर के युवा द्वारा दिया स्लोगन ऊंची आवाज में बोला। उन्होंने तंज कसा कि ‘जुमला बोलता रहा पांच साल की सरकार में, सोचा था क्लाउडी है मौसम नहीं आऊंगा राडार में। लेकिन वे राडार में आ गए। बारिश हो या खुली धूप, लोगों के सामने राजनीति की सच्चाई आ गई है।

दो बार लिया मां अहिल्या का नाम : प्रियंका ने शुरुआत लोकमाता देवी अहिल्याबाई होलकर के नाम से की। उन्होंने कहा कि बहनों और भाइयों, आपने मां अहिल्या की धरती पर स्वागत किया, इसके लिए धन्यवाद। अहिल्या मां और इस धरती को नमन करती हूं। राजबाड़ा पर गाड़ी पर सवार प्रियंका ने कहा, मेरे कारण ट्रैफिक रुका, आपको कष्ट हुआ होगा, इसके लिए माफी चाहती हूं।

मिनी ट्रक देख हो गईं नाराज

प्रियंका गांधी के रोड शो के लिए कांग्रेस ने मिनी ट्रक को रथ का रूप दिया था। जब प्रियंका गांधी राजमोहल्ला चौराहे पर पहुंची तो वहां काफी नेताओं ने उनका जोरदार स्वागत किया। जब गाड़ी पर सवार होने का समय आया तो मिनी ट्रक को देखकर प्रियंका नाखुश हो गई। रोड शो में कुछ मंचों से नारेबाजी के दौरान वक्ताओं ने प्रियंका गांधी को उनकी दादी इंदिरा गांधी की तरह बताते हुए उन्हें याद किया। प्रियंका के साथ वाहन पर प्रदेश के सीएम कमलनाथ, छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल, शोभा ओझा, उम्मीदवार पंकज संघवी, स्वप्निल कोठारी आदि सवार थे।

पुलिस से उलझते रहे नेता

प्रियंका को जिस वाहन पर सवार होना था, उसके पिछले हिस्से में नेता जमा थे। पुलिस ने सभी को वहां से हटाने की कोशिश की लेकिन नेत्रियां नहीं मान रही थी। महिला पुलिसकर्मियों ने मशक्कत के बाद इन्हें साइड में किया। प्रियंका वाहन पर सवार हो रही थी उस आपाधापी में एक मंत्री का पैर भी फिसला लेकिन अन्य लोगों ने उन्हें संभाल लिया। प्रियंका व मुख्यमंत्री कमलनाथ रोड शो खत्म होने पर वाहन में बैठकर रवाना हो गए। छग मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पीछे रह गए। गार्डों ने उन्हें संघवी की गाड़ी में बैठाया। संघवी उतरे तो बघेल आगे बैठे वे पीछे जीतू पटवारी के साथ बैठकर निकले।

महिला व बच्चों में दिखा क्रेज

रोड शो के दौरान कई लोग प्रियंका गांधी की झलक पाने के लिए जहां उत्सुक नजर आए। महिलाएं व युवतियां प्रियंका को देखने व वीडियो बनाने के लिए खड़ी थी। महिलाएं मकानों की गैलरी पर भी खड़ी थी, जिनका प्रियंका ने अभिवादन किया। धक्का मुक्की में महिलाएं परेशान हुई लेकिन फिर भी प्रियंका के फोटो खींचे। पहली बार प्रियंका शहर में आई थी, महिलाओं का कहना था, उनमें इंदिरा गांधी की झलक है।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned