जून में ही पीएससी की भर्तियां, कई परीक्षाएं होंगी प्रभावित

जून में ही पीएससी की भर्तियां, कई परीक्षाएं होंगी प्रभावित

Hussain Ali | Publish: Mar, 17 2019 12:42:13 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

संभावित एकेडमिक कैलेंडर बनाने में भी लापरवाही, आचार संहिता की अवधि में रखी 9 परीक्षाएं

इंदौर. एमपी पीएससी जनवरी से अब तक एक भी भर्ती परीक्षा की प्रक्रिया शुरू नहीं कर पाई है। लोकसभा चुनाव की आचार संहिता लगने से अब जून तक नई भर्ती नहीं निकलेगी। हैरानी यह है, पीएससी ने इस साल का एकेडमिक कैलेंडर जारी करते हुए आचार संहिता का भी ध्यान नहीं रखा। मार्च से मई तक 9 भर्ती परीक्षाएं प्रस्तावित की थीं। व्यापमं घोटाले की जांच के दौरान पीएससी की राज्य सेवा परीक्षा 2012 भी विवादों में उलझने से कई परीक्षाएं समय पर नहीं हो पाईं। 3 साल बाद 2012 की भर्तियां होने के बाद पीएससी ने परीक्षा समय पर कराने के लिए एकेडमिक कैलेंडर तैयार किया। दावा किया था, विशेष स्थिति में ही इसमें व परीक्षा तिथियों में बदलाव होगा, पर २०१९ की परीक्षाओं के लिए सबसे देरी से 31 दिसंबर 2018 को एकेडमिक कैलेंडर जारी किया। इसके अनुसार राज्य सेवा के साथ राज्य वन सेवा परीक्षा की भर्ती जनवरी व राज्य अभियांत्रिकी सेवा परीक्षा की फरवरी में शुरू करना थी, पर इसका विज्ञापन ही जारी नहीं हुआ। अब आचार संहिता से न तो इन भर्ती परीक्षाओं की घोषणा हो सकती है न ही मई तक की किसी भी संभावित परीक्षा की।

परेशान हो रहे छात्र
छात्र अभिनव पाठक का कहना है, एकेडमिक कैलेंडर के अनुसार अप्रैल में प्रारंभिक परीक्षा होना थी। इसलिए निजी संस्थान की नौकरी छोडक़र तैयारी पर ध्यान दिया। अब परीक्षा के पते नहीं हैं। छात्रा कल्पना जोशी का कहना है, सभी को पता था इस साल लोकसभा चुनाव है तो पीएससी ने किस आधार पर कैलेंडर जारी किया।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned