पुष्य के शुभ नक्षत्र में बाजार में बरसेगा सोना

Arjun Richhariya

Publish: Oct, 13 2017 02:43:22 (IST)

Indore, Madhya Pradesh, India
पुष्य के शुभ नक्षत्र में बाजार में बरसेगा सोना

पुष्य नक्षत्र के दिन सोना खरीदना शुभ माना जाता है। इसीलिए आज हम अपने रीडर्स को ज्वेलरी और डायमंड में आए लैटेस्ट ट्रेंड से अपडेट कर रहे हैं

इंदौर. त्योहारों की रौनक बाजारों में दिख रही है। दुकानें सज रही है और जमकर शॉपिंग की जा रही है। ज्वेलरी मार्केट में हर साल की तरह इस बार भी फेस्टिवल सीजन और वेडिंग कलेक्शन में राजस्थान, पंजाब और गुजरात के कुछ नए ट्रेंडस लोगों को पसंद आ रहे हैं। पुष्य नक्षत्र के दिन सोना खरीदना शुभ माना जाता है। इसीलिए आज हम अपने रीडर्स को ज्वेलरी और डायमंड में आए लैटेस्ट ट्रेंड से अपडेट करने के लिए स्पेशल कॉलम चलो बाजार में जानकारी दे रहे हैं। ऑटोमोबाइल सेक्टर में भी बूम देखने को मिलेगा।

पंजाब ज्वेलर्स के दर्पण आनंद ने बताया कि इस बार मार्केट में क ई नए कलेक्शन लॉन्च हुए जिसमें तरह-तरह के इनोवेशन हुए हैं। लेडीज अब भारी भरकम ज्वेलरी पसंद नहीं करती, लेकिन फेस्टिव टाइम में डिमांड ट्रेडिशनल लुक की होती है। इसी को ध्यान में रखते हुए हमने काम किया है ट्रेडिशनल हैवी डिजाइंस को लाइट वेट ज्वेलरी में कन्वर्ट करके। ये देखने में हैवी लगती है, लेकिन वजन ज्यादा नहीं होता है। इसमें बारीक कार्विंग का काम किया जाता है।

एंटीक का रॉयल कलेक्शन
वे बताते हैं कि अब यंग गल्र्स हो या लेडीज सभी यूनीक लुक चाहती हैं और इसीलिए एंटीक रॉयल ज्वेलरी ट्रेंड में है। इस बार इसमें राजस्थान का रॉयल कलेक्शन पसंद किया जा रहा है। इसमें पारंपरिक नक्काशी के साथ रू बी, एमरल्ड को एड किया है। साथ ही कुछ एंटीक में कुंदन और कलर स्टोन का यूज है। इसे वियर करने पर रॉयल लुक आता है। ज्वेलरी में इस बार मारवाड़ी टच ज्यादा ट्रेंड कर रहा है। हैवी चोकर का चलन भी काफी बढ़ रहा है।

कलरफुल पर्ल और मल्टी लेयर
गोल्ड ज्वेलरी में पर्ल, कलर स्टोन और रूबी को एड करके कई सारी वैरायटी मार्केट में आई हैं। इसमें सोबर लुक के लिए मल्टी लेयर पर्ल में गोल्ड का यूज किया है। एलीगेंट लुक के लिए पर्ल विद गोल्ड ज्वेलरी को पसंद किया जा रहा है। इसमें थ्री और फाइव लेयर अवेलेबल है। गोल्ड विद वाइट पर्ल और गोल्ड विद मल्टी कलर पर्ल दोनों को पसंद किया जा रहा है। इसके अलावा इटालियन चेन में हॉलों और नवाबी कलेक्शन है। २२ कैरेट गोल्ड और १८ कैरेट डायमंड और गोल्ड की वॉचेस है।

राजस्थानी ट्रेंड कर रहा अट्रैक्ट
रतलाम ज्वेलर्स के पारस बोहरा ने बताया कि इन दिनों इंदौर में राजस्थानी ज्वेलरी को ज्यादा पसंद किया जा रहा है। इसमें चौकर, मल्टी लेयर कंठी, एंटीक हसली, राजस्थानी बजरी और राजवाड़ी डिजाइंस ही ट्रेंड में है। इसमें ट्रेडिशनल और मॉडर्न का फ्यूजन लैटेस्ट है। इसमें भी सरोस्की और कलर स्टोन ज्यादा हिट है। ऑक्सीडाइज ज्वेलरी भी इन है। इसकी वजह यह है कि ओल्ड ट्रेडिशनल और रॉयल लुक देता है।

फेस्टिव और वेडिंग का ट्रेंडी कलेक्शन
रेवा ज्वेल्स के मैनेजर प्रशांत माहेश्वरी ने बताया कि हम अलग-अलग बजट के हिसाब से स्पेशल वेडिंग और फेस्टिवल कलेक्शन लेकर आए हैं। इसके लिए हमने बेहद खूबसूरत नया कलेक्शन तैयार किया है, जिसमें ट्रेडिशनल के साथ ट्रेंडी का फ्यूजन है। इसमें ट्रेडिशनल डिजाइंस को कस्टमर डिमांड के हिसाब से मॉडिफाई कर नई डिजाइंस क्रिएट की हैं। इसमें गोल्ड के साथ डायमंड की लार्ज रेंज है। इसके अलावा एंटीक ज्वेलरी कलेक्शन को पसंद किया जा रहा है। एंटीक में पंजाब, राजस्थान और गुजरात के रॉयल लुक की हैवी ज्वेलरी डिमांड में हैं।

महाराष्ट्रीयन ज्वेलरी का क्रेज
वामनहरि पेठे के सचिन सदावर्ते ने बताया कि ज्यादातर वर्र्किंग वुमंस और यंग गल्र्स की पसंद लाइट वेट ज्वेलरी है। छोटे डिजाइनर नेकपीस और ईयरिंग्स सबसे ज्यादा सेल होते हैं। इसके अलावा ट्रेडिशनल में गोल्ड में खासतौर पर महाराष्ट्रीयन ज्वेलरी क ा क्रेज देखने को मिल रहा है। इसमें नेकपीस में पोहाहार, चपलाहार और हैवी बैंगल्स में पाटली कड़ा, गुलाब तोड़ा और गेहूं तोड़ा का चलन है और राजा रजवाड़ों के समय की डिजाइंस ज्वेलरी में ज्यादा देखी जा रही है।

2 हजार से 1 लाख का डिस्काउंट
जबलपुर मोटर्स के विशाल गौतम ने बताया कि पुष्य नक्षत्र और धनतेरस में 250 से अधिक व्हीकल्स की डिलीवरी करेंगे। इनमें से 100 से ज्यादा व्हीकल्स शुक्रवार को डिलीवर की जाएगी। फ्यूल एफीशियंट होने के कारण हैचबैग कैटेगरी में टाटा टियागो को पसंद किया जा रहा है। मिनी एसयूवी में नेक्सॉन की पॉपुलैरिटी ज्यादा है। इसमें ग्राउंड क्लियरेंस २१० एमएम का है। सिडान सेगमेंट में टिगोर की डिमांड है। हर गाड़ी पर २ हजार से लेकर १ लाख रुपए तक डिस्काउंट भी स्क्रैच कूपन के जरिए दिया जा रहा है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned