राजबाड़ा जीर्णोद्धार की धीमी गति पर नाराज हुए कमिश्नर

कंपनी को जारी होगा टर्मिनेशन नोटिस, गोपाल मंदिर के काम की सुस्त रफ्तार को लेकर भी जताई नाराजगी

इंदौर. राजबाड़ा के जीर्णोद्धार के काम की धीमी गति को लेकर संभागायुक्त संजय दुबे खासे नाराज हैं। सोमवार को वे शहर की तीनों ऐतिहासिक इमारतों राजबाड़ा, गोपाल मंदिर और बांके बिहारी मंदिर के जीर्णोद्धार का निरीक्षण करने पहुंचे थे। वहीं काम की धीमी रफ्तार देखकर उन्होंने राजबाड़ा का काम कर रही कंपनी को टर्मिनेट करने तक के लिए अफसरों को कह दिया।

संभागायुक्त के दौरे के दौरान निगमायुक्त और स्मार्ट सिटी कंपनी के एमडी मनीष सिंह, आईडीए सीईओ गौतम सिंह भी साथ में थे। राजबाड़ा और गोपाल मंदिर का काम स्मार्ट सिटी कंपनी कर रही है, जबकि बांके बिहारी मंदिर का काम आईडीए करवा रहा है। संभागायुक्त का दौरा गोपाल मंदिर से शुरू हुआ। यहां काम की गति को लेकर संभागायुक्त ने कांट्रेक्टर कपंनी मेसर्स राजपूताना कंस्ट्रक्शन कंपनी राजस्थान को शोकाज नोटिस जारी करने के लिए निगमायुक्त को निर्देश दिए, साथ ही कंपनी को भी काम में तेजी लाने के लिए कहा।

वहीं मौके पर मौजूद कंपनी के अफसरों ने संभागायुक्त को बताया कि उन्हें ड्राइंग डिजाइन समय सीमा में नहीं मिली, जिसके कारण काम धीमा हो रहा है। जिस पर उन्होंने इस काम की कंसल्टेंट कंपनी मेसर्स अर्जुन हबलानी को भी शोकाज नोटिस जारी करने के लिए कहा। यहां से वे राजबाड़ा में चल रहे विकास काम को देखने पहुंचे। यहां भी काम में हो रही देरी को लेकर वे नाराज हुए।

जीर्णोध्दार में लगी कंपनी को अधिकारियों ने निर्देश दिए कि ऐतिहासिक धरोहर को तत्परता से सुरक्षित रखा जाए। साथ ही ऑडियो व वीडियो में डाक्यूमेंट्री के माध्यम से यहां की धरोहर को दिखाने के निर्देश दिए। मंदिर की पहले की स्थिति, आज की हालत और भविष्य में इसका स्वरूप कैसा रहेगा, इस चित्रों के माध्यम से संकलित करना भी तय हुआ। अफसरों ने प्रथम तल, भू-तल व छत का भी निरीक्षण किया।

उन्होंने गोपाल मंदिर में आर्ट गैलरी के साथ ही म्यूजियम बनाने के निर्देश भी दिए। शहर के जानकारों को आमंत्रित कर उनसे इंदौर शहर के इतिहास की जानकारी लेकर आर्ट गैलरी व म्यूजियम में रखे जाने वाली सामग्री के लिए मदद ली जाएगी। इस दौरान भवन अधिकारी महेश शर्मा, आर्किटेक्ट अर्जुन हबलानी आदि मौजूद थे।

अर्जुन रिछारिया Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned