नौलखा से प्रतिबंधित करें भारी वाहन

प्रशासन कार्रवाई नहीं करता है तो आंदोलन किया जाएगा

By: रीना शर्मा

Published: 07 Jul 2019, 10:30 AM IST

इंदौर. लोहा व्यापारी ही चाहते हैं कि अब नौलखा क्षेत्र में भारी वाहनों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाया जाए। कहना है कि लोहा व्यापारी नई मंडी में शिफ्ट हो गए हैं अब प्रशासन कदम उठा सकता है। इसको लेकर प्रतिनिधि मंडल कलेक्टर से मिला तो आज वे संभागायुक्त के पास भी जाएगा।

शहर के यातायात का सुगम बनाने के लिए सरकार ने लोहा व्यापारी को निरंजनपुर में प्लॉट दिए थे। 13 साल बाद भी जब व्यापारी शिफ्ट नहीं हुए तो पिछले दिनों जिला प्रशासन ने सख्ती करते हुए लोहे से भरे भारी वाहनों के प्रवेश को पुरानी मंडी में प्रतिबंधित कर दिया था। काफी बवाल होने के बाद कुछ व्यापारियों ने राजनीतिक दबाव बनाया जिसके बाद प्रशासन व पुलिस ने मुहिम को थोड़ा शिथिल कर दिया था। अब व्यापारियों का एक प्रतिनिधि मंडल गुरुवार को अपर कलेक्टर दिनेश जैन से तो शुक्रवार को कलेक्टर लोकेश कुमार जाटव से मिला।

इसमें शाहिद आरिफ, संदीप जैन और मनोज शर्मा प्रमुख थे। कहना था कि पुरानी लोहामंडी में जिन व्यापारियों को प्लॉट मिले थे वे नई लोहामंडी में शिफ्ट हो गए हैं। आम जनता के हित को देखते हुए नौलखा से अग्रसेन प्रतिमा होते पुरानी लोहामंडी आने और जाने वाले भारी वाहन प्रतिबंधित लगा दिया जाए। प्रशासन यह कार्रवाई नहीं करता है तो आंदोलन किया जाएगा। इसको लेकर प्रतिनिधि मंडल अब संभागायुक्त आकाश त्रिपाठी से मिलने भी जाने वाला है।

रीना शर्मा Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned