कर्ज हुआ तो भतीजे ने बुआ के घर डलवा दी डकैती

सीए के घर में डकैती डालने वाले धार के गिरोह के पांच आरोपी गिरफ्तार, 12 लाख नकद होने की जानकारी पर 14 बदमाश पहुंचे थे वारदात करने

By: Hitendra Sharma

Published: 10 Feb 2021, 08:30 AM IST

इंदौर. हाई लिंक सिटी में हुई डकैती की वारदात का खुलासा करते हुए पुलिस ने 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया। सभी आरोपी धार के हैं। गिरोह का सरगना फरियादी परिवार का भतीजा है, जबकि एक आरोपी शासकीय स्कूल का अतिथि शिक्षक है। आरोपी पर कर्ज हुआ तो उसने साथियों के साथ मिलकर बुआ के घर डकैती डलवा दी। दो बार खुद आकर रैकी कराई, घटना के समय भी कॉलोनी के बाहर मौजूद रहा।

डीआइजी मनीष कपूरिया के मुताबिक, डकैती के मामले में एरोड्रम पुलिस व क्राइम ब्रांच को सफलता मिली है। एसपी महेशचंद्र जैन के नेतृत्व में एएसपी डॉ. प्रशांत चौबे, गुरुप्रसाद पाराशर की टीम ने पिंटू उर्फ अभिषेक जैन पिता दिनेश जैन निवासी सदर बाजार टांडा, मंगू पिता जुवान सिंह निवासी पिपरानी जिला धार, रमेश पिता केसु अलावा निवासी ग्राम पिपरानी जिला धार, मुकाम पिता जुवान सिंह निवासी दूधिया फालिया टांडा जिला धार तथा रवींद्र उर्फ रवि पिता नवल सिंह निवासी बुधिया फाला थाना टांडा जिला धार को गिरफ्तार किया है।

हाई लिंक सिटी में चोपड़ा के घर बोला था धावा
30-31 जनवरी की दरमियानी रात सशस्त्र बदमाशों ने हाई लिंक सिटी निवासी अजीत चोपड़ा के घर धावा बोला था। हमले में अजीत घायल भी हुए थे। अजीत का सराफा में ज्वेलरी का कारोबार है जबकि बेटा सीए है। यहां से नकदी के साथ बदमाश जेवर भी ले गए थे। पास में व्यापारी राकेश जैन के घर में घुसकर वहां से 17 तोला सोना व नकदी ले उड़े थे। सीएसपी जयंतसिंह राठौर व टीआइ राहुल शर्मा ने आसपास जांच की तो कैमरों में बदमाशों के चेहरे सामने आ गए थे। जांच में पता चला कि धार के गिरोह ने वारदात की थी। आरोपी पकड़ाए तो पता चला कि पिंटू गिरोह का सरगना है। पिंटू जहां किराने का व्यापार करता है, वहीं मंगू शासकीय स्कूल में अतिथि शिक्षक है।

पारिवारिक विवाद की खुन्नस निकाली
अफसरों के मुताबिक, अजीत चोपड़ा की पत्नी के भाई का बेटा है पिंटू। पिछले कुछ समय से पिंटू के परिवार का बुआ के परिवार से विवाद चल रहा है। इसे लेकर उसके मन में खुन्नस थी। किराने के व्यापार में उसे बड़ा घाटा हुआ, जिससे कर्ज लेना पड़ा।

दो कारों से 14 आरोपी आए डकैती डालने
आरोपी पिंटू को लगा कि बुआ के घर में लाखों रुपए हैं। हाल ही में उसे पता चला कि बुआ के घर में 12 लाख रुपए नकद हैं। मांगू को साथ लेकर आया और रैकी कर गया। दो कारों में 14 आरोपी वारदात के लिए आए। रात में 9 बजे एक बार फिर बदमाशों को मकान दिखाया। घटना के समय खुद भी कॉलोनी के बाहर मौजूद था।

जैन परिवार के यहां डकैती के आरोपी हाथ नहीं लगे
जैन परिवार के घर में ज्यादा सामान निकला, जिसे आरोपियों ने आपस में बांट लिया था। जैन परिवार का माल ले जाने वाले आरोपी अभी पुलिस के हाथ नहीं लगे हैं। आरोपियों से लूट की नकदी के साथ ही सोने की अंगूठी, चेन, चूड़ी आदि सामान जब्त हो गया है। रिमांड पर लेकर अन्य साथियों के बारे में पूछताछ की जा रही है।

Show More
Hitendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned