मौला की एक झलक देखने के लिए इंदौर में जुटे लाखों लोग, दिया स्वच्छता का संदेश

मौला की एक झलक देखने के लिए इंदौर में जुटे लाखों लोग, दिया स्वच्छता का संदेश

Arjun Richhariya | Publish: Sep, 06 2018 12:31:50 PM (IST) | Updated: Sep, 06 2018 01:06:21 PM (IST) Indore, Madhya Pradesh, India

मौला की एक झलक देखने के लिए इंदौर में जुटे लाखों लोग, दिया स्वच्छता का संदेश

इंदौर. बोहरा समाज के धर्मगुरु सैयदना साहब गुरुवार सुबह इंदौर पहुंचे। 11.20 पर सैयदना मंच पर पहुंचे। उनके मंच पर आते ही समाज के लोगों ने हाथ उठाकर दीदार का सबब से नवाजा।

मोल मोल मुफडल मोल के नारों से पांडाल गूंज उठा। समाजजनों ने इमाम हुसैन का मातम कर मोल स्वागत किया। स्वागत भाषण मोहलिम ने जिगर किया और कहा कि आपका दीदार पाकर ईद की खुशी पाई।

bohra samaj

उन्होंने पिता की याद दिलाई और कहा कि जो जोश आज हम आप में देख रहे हैं वही समाज के हर सदस्य में आएगा। कुरान शरीफ की तिलावत सैयदना के शहजादे ने की। उसके बाद सैफी नगर के आमिल ने मिश्री ओर शर्बत चखाकर इस्तकबाल किया। सभी मस्जिदों के अमिलो ने इकराम किया। छोटे बच्चों ने गुलदस्ता देकर स्वागत किया। बच्चों ने ग्रीन ओर क्लीन इंडिया का संदेश दिया। मोला की शान में मदेह पड़ी। मौला आप पर जान कुर्बान है। लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन, महापौर मालिनी गौड़, कांतिलाल भूरिया और विश्वास सारंग मंच पर मौजूद रहे।

 

bohra samaj

उज्जैन में स्वागत के लिए उमड़ा समाज
इंदौर आने से पहले वे सुबह 8.00 बजे अवंतिका एक्सप्रेस से उज्जैन पहुंचे। यहां रेलवे स्टेशन पर उनको सलामी दी गई और गाडिय़ों के काफिले के साथ कमरी मार्ग स्थित मजारे नजमी पर ससम्मान उन्हें लाया गया। पालकी में सवार वह अपने मेहमान कक्ष में गए। उसके बाद 9.30 बजे वह पुन: अपने कक्ष से बाहर निकले और मस्जिद के अंदर और बाहर खड़े हजारों लोगों को आशीर्वाद दिया। उन्होंने मजार पर सजदा किया इसके बाद कुछ प्रवचन दिए। फिर वह इंदौर के लिए 9.48 पर रवाना हो गए।

डेढ़ माह से क्षेत्र में स्वच्छता अभियान
क्षेत्रीय पार्षद सादिक खान ने बताया, पूरा कार्यक्रम उनके वार्ड में हो रहा है। विश्वभर से आने वाले समाजजन को स्वच्छता का संदेश देने के लिए डेढ़ माह से विशेष स्वच्छता अभियान चलाया गया। पूरे क्षेत्र में नगर निगम के कर्मचारी सहित क्षेत्र के कार्यकर्ता तैनात रहेंगे।

मदद के ऐप लांच
समाजजन की मदद के लिए अशरा 1440 के नाम से ऐप भी लॉन्च किया गया है। इस ऐप से लोग वाअज के पास निकाल सकेंगे। इसके अलावा सैयदना के कार्यक्रमों की अन्य जानकारियां भी इस पर अपडेट होती रहेंगी।

प्रसारण और सामूहिक भोज व्यवस्था
बाहर से आने वालों की आवास व्यवस्था होटल, गार्डन एवं समाजजन के निजी मकानों में की गई है। नूरानी नगर, अम्मार नगर, मसाकिन-ए-सैफिया, हसनजी नगर, छावनी, सियागंज, जूनापीठा, बद्रीबाग, हकीमी मोहल्ला, राऊ, महू एवं उज्जैन नगर में वाअज के सीधे वीडियो व ऑडियो प्रसारण व सामूहिक भोज की व्यवस्था की गई है।

पिता के तखत पर बैठेंगे
2002 में 52वें धर्मगुरु और सैयदना के पिता इंदौर आए थे, तब जिस तखत पर बैठकर वाअज दी थी उसी पर सैयदना भी 9 दिनी वाअज सुनाएंगे। सुंदर नक्काशी वाले इन दोनों तखतों को तैयार करवाया गया है।

40 हजार एक साथ सुनेंगे
सैयदना की वाअज के लिए सैफी नगर मस्जिद की तरफ से दो दीवारें हटाने के साथ चार मंजिला व्यवस्था की गई है। लगभग 200 टन लोहा, प्लाय सहित अन्य सामग्री से अस्थायी निर्माण किया गया है। वहीं मस्जिद के हॉल में भी दो मंजिला निर्माण किया है।

सुनने का मौका एक बार
दाऊदी बोहरा जमात द्वारा समाजजन को सैफी नगर मस्जिद में वाअज सुनने का मौका देने की व्यवस्था की जा रही है। शहर के अन्य क्षेत्रों से समाजजन को भी लाने-ले जाने के लिए परिवहन व्यवस्था की जा रही है।

 

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned