स्कीम-155 में फ्लैट के रेट ढाई हजार

लंबे समय बाद इंदौर विकास प्राधिकरण लॉटरी से बेचेगा घर

इंदौर. योजना 155 में 200 से अधिक मिड साइड फ्लैट्स के लिए आईडीए लंबे समय बाद लॉटरी सिस्टम का इस्तेमाल करने जा रहा है। इस योजना में फ्लैट्स के रेट यूं तो ढाई हजार रुपए प्रति वर्गफीट से अधिक हैं, लेकिन खरीदारों को इसी दर पर मिल जाएंगे अगर उनके नाम की पर्ची खुल गई तो।

इस योजना में एलआईजी फ्लैट्स के रेट तो प्राधिकरण ने कम किए, लेकिन टू-बीएचके वाले एमआईजी फ्लैट्स के रेट अब भी वही हैं, जिन पर बेचने के लिए बार-बार टेंडर निकालने के बाद भी सफलता नहीं मिली। इस बार इन्हें लॉटरी सिस्टम से निकाला गया है ताकि न्यूनतम तय दर पर ही बिक्री की जा सके। हालांकि इसके लिए तय शर्तों में यह जरूरी है कि खरीदने वाले के पास पहले से प्राधिकरण की किसी भी अन्य स्कीम में कोई संपत्ति नहीं होना चाहिए। इसके लिए आवेदन जमा हो रहे हैं और आज जमा करने का आखिरी दिन है। लॉटरी 28 अप्रैल को खोली जाएगी।

सुपर बिल्ट-अप पर बेच रहे
वैसे तो रेरा ने सुपर बिल्ट अप के आधार पर संपत्ति बेचने पर रोक लगा रखी है, लेकिन प्राधिकरण ने इसी आधार पर इसका टेंडर निकाला है। फ्लैट्स का वास्तविक आकार तो सवा आठ से साढ़े आठ सौ वर्गफीट तक है, मगर इसके रेट का केल्कुलेशन सुपर बिल्ट अप पर किया गया जो ग्यारह से साढ़े ग्यारह सौ वर्गफीट आ रहा है। इसके आधार पर इन फ्लैट्स की कीमत 21.40 से 22.40 लाख तक है।

85 हजार रुपए ज्यादा
फ्लैट्स की कीमत में 85 हजार रुपए अतिरिक्त रूप से देना होंगे। ये शुल्क बिजली के केबल के मेंटेनेंस के नाम पर लिया जा रहा है। इस तरह से फ्लैट की कीमत 22.25 से 23.25 लाख रुपए हो गई है। लॉटरी खुलने के बाद खरीदार को आधी कीमत के साथ एक साल की लीज भी एडवांस में देना होगी, तभी आवंटन होगा।

सामान्य के लिए 107 फ्लैट
इस योजना में सामान्य से वर्ग के लिए 117 फ्लैट्स ही हैं। शेष 90 फ्लैट्स आरक्षित वर्ग के लिए हैं। इसमें अजजा के 32, अपिव के 13, अजा के 22, विकलांग के 8, पत्रकार के 7, स्वतंत्रता संग्राम सेनानी के 9, सैनिक/भूतपूर्व सैनिक के 4 और कर्मचारी कोटा में 4 फ्लैट हैं।

अर्जुन रिछारिया Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned