scriptschool buildings | शिक्षा के मंदिर हो रहे जर्जर | Patrika News

शिक्षा के मंदिर हो रहे जर्जर

टपकती छत के नीचे गीले में बैठने को मजबूर हैं विद्यार्थी

इंदौर

Published: July 23, 2022 11:22:35 am

खातेगांव। एक ओर जहां शिक्षा के नाम पर सरकार करोड़ों रुपए खर्च कर रही है, वहीं दूसरी ओर ग्रामीण क्षेत्र में शिक्षा के मंदिरों की स्थिति खस्ताहाल है। जर्जर भवन, टपकती छत, शिक्षकों की कमी, पेयजल संकट जैसी ज्वलंत समस्याओं से इन दिनों सरकारी स्कूलों में अध्ययनरत नौनिहालों को जूझना पड़ रहा है, जिससे उनका जीवन अंधकार में है। हरणगांव क्षेत्र के कई सरकारी स्कूल शिक्षक विहीन हैं।
शिक्षा के मंदिर हो रहे जर्जर
शिक्षा के मंदिर हो रहे जर्जर
एकीकृत शाला माध्यमिक विद्यालय हरणगांव के शाला प्रभारी राजेश जैन ने बताया कि हमारे यहां शाला में 215 बच्चे दर्ज हैं, लेकिन अध्यापन के लिए हमारे पास केवल तीन शिक्षक ही हैं। हम तीन कक्षाएं लगाकर बारी-बारी से उन्हें पढ़ाते हैं। कक्षा 1 से 8वीं तक के बच्चों को बैठाने के लिए हमारे पास 6 कक्ष हैं, किन्तु बारिश के मौसम में सभी की छत से बारिश का पानी टपकता है। स्कूल समय में बारिश होने पर स्थिति और भी ज्यादा खराब हो जाती है। कार्यालय कक्ष में भी बारिश का पानी छत से टपकता है, जिससे विद्यालय के दस्तावेज भी भीग गए हैं। राज्य शिक्षाकेंद्र से प्राप्त टेबलें व बेंचें भी कक्ष में पानी टपकने के कारण खराब हो रही हैं।
स्कूल परिसर में डालते हैं कचरा
स्कूल में बाउंड्रीवाल नहीं होने से मोहल्लों के लोग स्कूल परिसर में ही कचरा डाला जाता हैं। इसलिए हमें शाला परिसर की बार-बार सफाई करवानी पड़ती है। बाउंड्रीवाल नहीं होने से असामाजिक तत्व टॉयलेट के गेट तोड़ दिए गए हैं, शाला परिसर में बच्चों के पीने के पानी के लिए जल संरचना भी लगाई गई थी, किंतु लोगों ने उसके भी नल तोड़ दिए हैं और उसमें लगी टाइल्स भी उखाड़ ले गए हैं। हम बाउंड्रीवाल की मांग काफी समय से ग्राम पंचायत एवं डाइस प्रपत्र के माध्यम से विभाग से कर रहे हैं, किंतु अभी तक किसी ने भी इस ओर ध्यान नहीं दिया है।
सारे बच्चे एक ही कमरे में
माध्यमिक विद्यालय निवारदी में 66 बच्चे दर्ज हैं। यहां शाला शिक्षक विहीन है। अध्यापन के लिए तीन कक्ष हैं जिनमें से 2 कमरों में बारिश का पानी छत से टपकता है। इसलिए सभी बच्चों को एकत्र कर एक ही कक्ष में बैठाना पड़ रहा है। यहां पर प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक स्कूल संचालित करा रहे हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बांदा में यमुना नदी में डूबी नाव, 20 के डूबने की आशंकाCM अरविंद केजरीवाल ने किया सवाल- 'मनरेगा, किसान, जवान… किसी के लिए पैसा नहीं, कहां गया केंद्र सरकार का धन'SCO समिट में पीएम मोदी के साथ पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की हो सकती है बैठकबिहारः 16 अगस्त को महागठबंधन सरकार का कैबिनेट विस्तार, 24 को फ्लोर टेस्ट, सुशील मोदी के दावे को नीतीश ने बताया बोगसझारखंड BJP ने बिहार के नए उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को गिफ्ट में भेजा पेन, कहा - '10 लाख नौकरी देने वाली फाइल पर इससे करें हस्ताक्षर'ममता बनर्जी को एक और झटका, अब पशु तस्करी केस में TMC नेता अनुब्रत मंडल को CBI ने किया गिरफ्तारCoal Scam: कोयला घोटाले मामले में ED ने पश्चिम बंगाल के 8 आईपीएस ऑफिसर को जारी किया समनजम्मू-कश्मीर के रामबन में लैंडस्लाइड व बादल फटने से दो लोगों की मौत, हिमाचल के कुल्लू में कई दुकानें बहीं
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.