एक अक्टूबर से नहीं माने नियम तो स्कूल होगा बंद

Arjun Richhariya

Publish: Sep, 16 2017 08:25:26 PM (IST)

Indore, Madhya Pradesh, India
एक अक्टूबर से नहीं माने नियम तो स्कूल होगा बंद

एक अक्टूबर से नहीं माने नियम तो स्कूल होगा बंद

इंदौर. गुरुग्राम के रेयान स्कूल में हुए दर्दनाक प्रद्युम्न हत्याकांड के बाद देशभर में राज्य सरकारें जागी है और नियम-कानून गढ़े जा रहे हैं। मप्र के शिक्षा मंत्री ने अब कठोर कदम उठाने की बात कही है। साथ ही सीबीएसई स्कूलों ने स्कू लों को सुरक्षा के लिए सख्त निर्देश दिए है।


सीबीएसई द्वारा जारी निर्देशों के दूसरे दिन शिक्षा मंत्री विजय शाह ने कहा कि अब स्कूलों की मान्यता समाप्त कर दी जाएगी। एक अक्टूबर से प्रदेश सरकार द्वारा जारी निर्देशों को मानना पड़ेगा। नियमों के साथ ही स्कूलों में सुरक्षा के तगड़े इंतजाम करने होंगे। सभी स्कूल बसों में महिला कंडक्टर अनिवार्य रूप से तैनात होगी। ऐसा नहीं करने पर स्कूलों की मान्यता समाप्त करने जैसा सख्त कदम उठाए जाएंगे। सीबीएसई स्कूलों द्वारा नियमों का उल्लंघन करने पर सीबीएसई को इस बारे में लिखित सूचना दी जाएगी। शिक्षा विभाग की प्रिंसीपल सेक्रेटरी दीप्ती गौर ने कहा कि सभी स्कूलों को अपने स्टॉफ का रिकार्ड व वेरिफिकेशन एजुकेशन पोर्टल पर अपलोड करना होगा। ऐसा नहीं करने पर स्कूल की मान्यता खतरें में होगी। 

संविदा शिक्षकों को होगा अधिकार

वहीं संविदा शिक्षकों को अधिकार होगा कि वे अपने क्षेत्र में आने वाले सभी स्कूलों में दौरा करें और उसकी रिपोर्ट विभाग को दें। साथ ही सुरक्षा के मुद्दे पर सभी बीआरसी को भी समय-समय पर स्कूलों का दौरा करना होगा।
मंत्री शाह ने कहा कि वे वीडियो कांफ्रे सिंग में सभी जिला शिक्षा अधिकारियों से इस बारे में नियमित रूप से जानकारी लेंगे।


मंत्री शाह ने स्वास्थ्य विभाग की मदद लेने के लिए भी कहा है। स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी सभी स्कूली बच्चों का समय-समय पर स्वास्थ्य परीक्षण करेंगे। प्रदेश के एक लाख 6० हजार स्कूलों में एक करोड़ 60 लाख बच्चे पढ़ रहे हैं। मंत्री ने साफ कहा कि यह नियम मप्र शिक्षा बोर्ड व सीबीएसई पर लागू होंगे।

 

एक अक्टूबर से नहीं माने नियम तो स्कूल होगा बंद , शिक्षा मंत्री ने शिक्षा विभाग के अधिकारियों की बैठक ली। 

 

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned