हनुमान मंदिर परिसर में एसडीएम ने लगाई धारा 144, भड़के भक्त बोले - देखते है कैसे रौकता है प्रशासन

हनुमान मंदिर परिसर में एसडीएम ने लगाई धारा 144, भड़के भक्त बोले - देखते है कैसे रौकता है प्रशासन
हनुमान मंदिर परिसर में एसडीएम ने लगाई धारा 144, भड़के भक्त बोले - देखते है कैसे रौकता है प्रशासन

Mohit Panchal | Updated: 18 Sep 2019, 10:57:27 AM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

समिति सदस्य बोले, पहले वर्ग विशेष के धर्मस्थल के साउंड सिस्टम पर रोक लगाकर बताएं,
मंदिर में रात को ही होते हैं सुंदर कांड व अखंड रामायण

इंदौर। रणजीत हनुमान मंदिर में अब रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक स्पीकर व डीजे बजाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। प्रशासन व एसडीएम के इस फैसले ने बवाल खड़ा कर दिया है।
मंदिर समिति से जुड़े सदस्यों ने सवाल खड़े कर दिए है। उनका कहना है कि अखंड रामायण का पाठ 24 घंटे चलता है और सुंदर कांड भी रात को होता है। बिना साउंड सिस्टम के आयोजन कैसे होगा। ये आदेश धार्मिक भावनाओं को भड़काने वाला है। ऐसा ही है तो प्रशासन पहले वर्ग विशेष के धर्मस्थलों पर बजने वाले भोंगों पर रोक लगाए, फिर मंदिर की बात करंे।

आदेश पूरी तरह से तानाशाहीपूर्ण, एकपक्षीय कार्रवाई नहीं चलेगी
मंदिर समिति के सदस्य और पूर्व पार्षद लोकेंद्रसिंह राठौर ने कहा कि रणजीत हनुमान मंदिर पर आदेश लागू करने वाले अफसर पहले इस बात की गारंटी दें कि वे शहर में मस्जिद व दरगाह से सुबह 5 बजे शुरू होने वाले लाउडस्पीकर से होने वाली अजान बंद कराएंगे। आदेश ध्वनिविस्तारक यंत्रों पर रात 10 से सुबह 6 बजे तक के लिए लागू है तो वे भी इसमें शामिल हैं। हम ध्वनि प्रदूषण के खिलाफ नहीं हैं, लेकिन एक पक्षीय कार्रवाई का विरोध करेंगे।


कांग्रेस के खिलाफ षड्यंत्र
एसडीएम ने कांग्रेस सरकार को बदनाम करने की नीयत से आदेश जारी किया है। कांग्रेस को हिंदू विरोधी घोषित करने का प्रयास किया जा रहा है। कांग्रेस नेता कलेक्टर से मिलकर जल्द ही इस पर आपत्ति दर्ज कराएंगे।
भंवर शर्मा व संजय बाकलीवाल, कांग्रेस नेता

देखते हैं कैसे रोकेगा प्रशासन
मंदिर में सुंदर कांड आम तौर पर रात में ही होता है। ऐसे में प्रशासन साउंड सिस्टम पर रोक कैसे लगा सकता है? कानून सबके लिए एक है। जब ध्वनि प्रदूषण का नियम मंदिरों के लिए है तो बाकी मस्जिदों के लिए नहीं है क्या? देखते हैं कैसे प्रशासन हमें साउंड सिस्टम चलाने से रोकता है। रणजीत हनुमान भक्त मंडल सारे भक्त ऐसे किसी भी आदेश का विरोध करेंगे।
राजसिंह गौड़,
सदस्य, रणजीत हनुमान मंदिर समिति व अध्यक्ष हिंदरक्षक संगठन

आस्था पर आघात
अफसर सरकार के इशारों पर काम कर रहे है। हिंदू त्यौहारों के समय आस्था पर आघात पहुंचाया जा रहा है। अन्य वर्गो के त्यौहारों पर ऐसे आदेश जारी नहीं होते। कल दिग्विजय सिंह का बयान साफ बता रहा है कि कांग्रेस की मानसिकता क्या है?
तन्नू शर्मा, विभाग संयोजक बजरंग दल

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned