लोकायुक्त कार्रवाई : बेटे के लिए बड़ा हॉस्पिटल खुलवाना चाह रहा था ‘धनकुबेर’ एसडीओ

बैंक अकाउंट खुलवाने के प्रयास, लोकायुक्त अफसर प्रॉपर्टी ब्रोकरों से कर रहे पूछताछ

By: हुसैन अली

Published: 03 Jan 2019, 02:05 PM IST

इंदौर.आय से अधिक संपत्ति के मामले में लोकायुक्त जांच में फंसे वन विभाग के एसडीओ आरएन सक्सेना ने सैलरी अकाउंट खुलाने के लिए अफसरों से संपर्क किया है। इस बीच लोकायुक्त को पता चला, सक्सेना ने विजयनगर क्षेत्र में बेटे के लिए नर्सिंग होम खोलने के लिए कुछ प्रॉपर्टी ब्रोकरों से संपर्क किया था। लोकायुक्त अफसर विजयनगर क्षेत्र के प्रॉपर्टी ब्रोकरों से पूछताछ कर रहे हैं। एसपी दिलीप सोनी के निर्देशन में डीएसपी प्रवीणसिंह बघेल की टीम को जांच में कुछ संपत्तियों की लिस्ट मिली है, जिन्हें सक्सेना के परिवार से जोडक़र देखा जा रहा है। सरकारी विभागों से इन सभी संपत्तियों के रिकॉर्ड मांगे जा रहे हैं। इस बीच नर्सिंग होने के लिए कोई बड़ा भवन या जमीन देखने की बातें भी अफसरों के पास पहुंचीं, जिसके आधार पर जांच तेज कर दी गई है। कुछ प्रापर्टी ब्रोकरों को पूछताछ के लिए बुलाया है।

गौरतलब है, सक्सेना के दोनों बेटे डॉक्टर हैं। एक बेटा पुणे में एमएस कर रहा है तो दूसरा यहां निजी मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस। इन्हीं के लिए नर्सिंग होम खोले जाने की योजना थी। लोकायुक्त ने कंपनियों को पत्र लिखकर बीमा पॉलिसियों में हुए निवेश की भी जानकारी मांगी है। वन विभाग में पदस्थापना के दौरान सक्सेना के खिलाफ शिकायत व जांचों के संबंध में भी पत्र लिखकर एसपी ने जानकारी मांगी है।

सभी खाते सील

बताया जा रहा है, इस बीच सक्सेना ने आर्थिक परेशानी को आधार बताते हुए अपना सैलरी अकाउंट खोलने के लिए अफसरों तक संपर्क किया है। लोकायुक्त को जांच में जितने भी बैंक खातों की जानकारी मिली उन सभी को सील कर दिया है।

हुसैन अली
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned