बैठक में प्रत्याशी को देख घबराए सरकारी डॉक्टर तो बोले चिंता मत करो अपनी सरकार है

बैठक में प्रत्याशी को देख घबराए सरकारी डॉक्टर तो बोले चिंता मत करो अपनी सरकार है

Reena Sharma | Publish: May, 17 2019 03:57:26 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

आइएमए की बैठक में बनी अजीब स्थिति: मंत्री के नाम पर आईएमए ने बुलाई थी

इंदौर. स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट के नाम पर इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आइएमए) ने बुधवार को शहर के डॉक्टरों को एक होटल में जमा किया। मंत्री के आने से पहले ही वहां लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के प्रत्याशी पंकज संघवी पहुंच गए। उनके वहां आते ही अजीब स्थिति बन गई। वहां बैठे सरकारी डॉक्टर्स सकपका गए। इसी दौरान संघवी खुद के लिए वोट भी मांगने लगे। इसके बाद उन्होंने कहा, मैं स्पष्ट करना चाहता हूं कि मेरी वजह से किसी को परेशानी नहीं होगी। इतना बोलकर वे रवाना हो गए। हालांकि उनके बैठक में आने और कांग्रेस के पक्ष में प्रचार करने को लेकर डॉक्टरों में घबराहट बढ़ गई।

डॉक्टरों ने मंत्री के सामने रखीं समस्याएं

इसके बाद वहां पहुंचे मंत्री सिलावट से डॉक्टरों ने मेडिकल वेस्ट प्रबंधन के कड़े नियमों को लेकर शिकायत की। उन्होंने कहा कि पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड के अधिकारी नियमों के नाम पर उन्हें परेशान कर रहे हैं। इसके साथ ही उन्होंने आयुष्मान योजना के लिए एनएबीएच का सर्टिफिकेट लेने, झोलाछाप डॉक्टरों द्वारा गर्भपात की दवाएं लिखने जैसी समस्याएं रखी। मेडिकल टिचर्स एसो. व शासकीय डॉक्टर एसो. ने कांग्रेस सरकार द्वारा वचन पत्र में डॉक्टरों को सातवें वेतनमान का लाभ दिलाने का वादा याद दिलाया। मंत्री ने कहा, सरकार को काम करने के लिए ज्यादा वक्त नहीं मिला है। २४ मई के बाद कोई कसर नहीं रखेंगे।

-हमने स्वास्थ्य मंत्री से समय लेकर डॉक्टरों से चर्चा का आयोजन रखा था। वहां पंकज संघवी भी मिलने आ गए। सरकारी डॉक्टरों को इसकीजानकारी नहीं थी। आचार संहिता के चलते संघवी वहां ज्यादा देर नहीं रुके और डॉक्टरों ने मंत्री तुलसी सिलावट को अपनी समस्याएं बताई।

- डॉ. शेखर राव अध्यक्ष आईएमए इंदौर

भाजपा ने की शिकायत

भाजपा प्रवक्ता उमेश शर्मा ने चुनाव आयोग व जिला निर्वाचन अधिकारी को इसकी शिकायत की है। शर्मा का कहना था कि मंत्री तुलसी सिलावट की बैठक में शासकीय डॉक्टरों के बीच पंकज संघवी का प्रचार करना आचार संहिता का उल्लंघन है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned