scriptSeniorCitizen | संपत्ति के कारण अपनों से ही हो रहे परेशान | Patrika News

संपत्ति के कारण अपनों से ही हो रहे परेशान

locationइंदौरPublished: Dec 26, 2023 07:33:14 pm

समझाइश के बाद मिल रही बुजुर्गों को मदद

संपत्ति के कारण अपनों से ही हो रहे परेशान

इंदौर. संपत्ति के कारण बुजुर्ग अपनों से ही परेशान हो रहे हैं। मकान, एफडी पर कब्जा करने के लिए अपने ही लोग प्रताडि़त कर रहे हैं। बात नहीं मानने पर बेटे और बहू अपने बुजुर्गों का भरण-पोषण करने से इनकार कर देते हैं।
पलासिया में संचालित वरिष्ठ नागरिक परामर्श केंद्र में वर्ष 2023 में जितने केस आए, उसमें से अधिकांश में बुजुर्ग अपने परिवार से ही परेशान थे। केंद्र के प्रमुख रिटायर्ड डीएसपी एनएस जादौन के मुताबिक, 2023 में अधिकांश संपत्ति संबंधी शिकायतें सामने आईं। अचल संपत्ति की कीमतों में बढ़ोतरी होने के कारण उत्तराधिकारी अपने माता-पिता के मकान और जमीन पर जबरन कब्जा करने या बेचने के लिए दबाव बनाने का प्रयास कर रहे हैं। बात नहीं मानने पर उन्हें प्रताडि़त करते हैं, जिससे बुजुर्ग परेशान होकर केंद्र पहुंचते हैं। हाल ही में एक मामला आया, जिसमें मकान नाम नहीं करने पर बेटे व बहू ने बुजुर्ग दंपती को परेशान किया। एक अन्य मामले में दो लाख की एफडी अपने नाम करने के लिए परेशान किया गया। इस साल 1 जनवरी से 23 दिसंबर तक कुल 126 शिकायतें आईं। इसमें से 84 का निराकरण हुआ, वहीं अन्य में प्रक्रिया जारी है।
इस तरह की शिकायतें आईं
92 बहू-बेटे से प्रताडि़त
1 नाती-पोतों से परेशान
4 धोखाधड़ी से अचल संपत्ति
कब्जे में लेना
5 धोखे से अचल संपत्ति की रजिस्ट्री कराना
14 भरण-पोषण न करना
10 विविध प्रकरण
ये करते हैं काउंसलिंग
रिटायर्ड सहायक आयुक्त आबकारी केके बिड़ला, डॉ. आरके शर्मा, जीएम पाठक, एडी पाटिल, मेघचंद्र शर्मा, रामेश्वर कुशवाह, आनंद श्रीवास्तव, अनिल चितांबरे, ओम वरबार, राकेश अजमेरा, पी.एम. तावसे, पुराणिक राव काउंसलिंग करते हैं, जिससे मामले निपट रहे हैं।

ट्रेंडिंग वीडियो