118 साल बाद बनेगा ‘षष्ठ ग्रही योग’, देश में मचेगी उथल-पुथल, 6 राशियों के लिए शुभ, 4 के लिए अशुभ

  • 1901 के बाद अब बन रहा योग, दो से अधिक ग्रह एक राशि में आने पर बढ़ती हैं अप्रत्याशित घटनाएं

By: हुसैन अली

Published: 26 Nov 2019, 04:33 PM IST

सुधीर पंडित @ इंदौर. कई वर्षों बाद धनु राशि में षष्ठ ग्रही योग बन रहा है। दो से अधिक ग्रह एक राशि में आने पर कई तरह की अप्रत्याशित घटनाएं घटित होती हैं। षष्ठ ग्रही योग के कारण राजनीतिक व धार्मिक उथल-पुथल देश में बढ़ेगी। बुध और चंद्रमा के धनु राशि में आने पर षष्ठ ग्रही योग बनेगा।

ज्योतिषीय गणना के मुताबिक धनु राशि में षष्ठ ग्रही योग 118 साल बन रहा है। वर्ष 2019 के नवंबर और दिसंबर में बनने वाले चतुर्थ, पंच और षष्ठ ग्रही योग कई वर्षों में बन रहे हैं। जब गोचर में चार, पांच या ६ ग्रह के योग एक ही राशि में बनते हैं तब यह विशेष या अत्यधिक कष्टदायी हो सकते हैं।

118 साल बाद बनेगा ‘षष्ठ ग्रही योग’, देश में मचेगी उथल-पुथल, 6 राशियों के लिए शुभ, 4 के लिए अशुभ

21 को 11.59 पर शुक्र ने धनु राशि में किया प्रवेश

ज्योतिषाचार्य मितेश मालवीय ने बताया कि 21 नवंबर को 11.59 बजे शुक्र ग्रह वृश्चिक से धनु राशि में प्रवेश कर चुका है। जबकि पहले से धनु राशि में शनि, केतु और गुरु ग्रह से युति बनाकर चतुर्थ ग्रही योग बना रहे थे। 25 दिसंबर को 3.29 बजे बुध ग्रह धनु राशि में प्रवेश करेगा और उसके बाद चंद्रमा भी धनु राशि में प्रवेश कर षष्ठ ग्रही योग पूरा किया। धनु राशि में यह योग दो दिन तक रहेगा। 28 दिसंबर को चंद्रमा मकर राशि में प्रवेश करेंगे तब धनु राशि में पंच ग्रही योग 12 जनवरी 2020 तक रहेगा। जब भी दो या दो से अधिक ग्रह एक ही राशि में आते है तो देश और देशवासियों के लिए अप्रत्याशित घटनाएं बढ़ती हैं।

देश पर बढ़ेगा कर्ज

भारत की राशि कर्क है और इस समयावधि में देश पर कर्ज बढऩे, शेयर बाजार में अस्थिरता, युद्ध एवं दुर्घटनाओं के साथ ही भूकंप जैसी प्राकृतिक आपदाओं, बीमारी, महामारी, अज्ञात शत्रु हमले, राजनीतिक व धार्मिक उथल-पुथल और आम जनजीवन में परेशानी पैदा हो सकती है।

118 साल बाद बनेगा ‘षष्ठ ग्रही योग’, देश में मचेगी उथल-पुथल, 6 राशियों के लिए शुभ, 4 के लिए अशुभ

इस तरह बना योग

धनु राशि में स्थिति शनि, शुक्र और केतु आपस में मित्र हैं, लेकिन ये बृहस्पति के शत्रु ग्रह हैं। 16 दिसंबर के बाद सूर्य भी इन ग्रहों के साथ आ जाएगा, लेकिन शुक्र 15 दिसंबर को धनु राशि से निकल जाएंगे। बुध के राशि परिवर्तन करने से धनु राशि में फि र से 5 ग्रह आ जाएंगे। 25 दिसंबर को चंद्रमा के भी धनु में आने से षष्ठ ग्रह योग बन जाएगा।

12 राशियों पर असर

  • शुभ - मेष, मिथुन, सिंह, तुला, कुंभ, मीन
  • अशुभ - वृषभ, कर्क, कन्या, मकर
  • मिश्रित - वृश्चिक, धनु

इन वर्षों में बने थे षष्ठ ग्रही व अन्य योग

  • 1861 में सिंह राशि में षष्ठ ग्रही योग बना था।
  • 1901 में धनु राशि में पंच ग्रही योग।
  • 1910 में सप्त ग्रह योग तुला राशि में बना
  • 1921 में कन्या राशि में षष्ठ ग्रही योग
  • 1941 में कर्क राशि में पंच ग्रही योग
  • 1962 में मकर राशि में अष्ट ग्रही योग बना
118 साल बाद बनेगा ‘षष्ठ ग्रही योग’, देश में मचेगी उथल-पुथल, 6 राशियों के लिए शुभ, 4 के लिए अशुभ
हुसैन अली
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned