सरवटे की दुकानें 45 दिनों बाद भी नहीं हुईं शिफ्ट

सरवटे की दुकानें 45 दिनों बाद भी नहीं हुईं शिफ्ट

Hussain Ali | Updated: 12 Jun 2019, 02:44:31 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

बाहरी लोग बेच रहे स्टैंड पर सामान ,रात को आने-जाने वाले यात्री होते हैं परेशान

इंदौर. सरवटे बस स्टैंड का पुननिर्माण कार्य शुरू हो चुका है। यहां से संचालित होने वाली करीब 700 बसों को नवलखा, तीन इमली, गंगवाल और राजकुमार सब्जी मंडी से संचालित किया जा रहा है। नगर निगम द्वारा इन अस्थाई बस स्टैंड पर पेयजल, शेड आदि की सुविधा तो जुटा ली गई है, लेकिन खानपान को लेकर एक भी दुकान आंवटित नहीं की है। 45 दिन बाद भी सरवटे की दुकानें यहां शिफ्ट नहीं हुईं, जबकि सरवटे बस स्टैंड पर 12 दुकानों का संचालन होता था। अस्थाई स्टैंड प्रभारी ने नगर निगम के अफसरों से नवलखा और तीन इमली बस स्टैंड पर सरवटे की चार-चार दुकानें शिफ्ट करने के लिए कहा है, ताकि यात्रियों को किसी तरह की परेशानी न हो, लेकिन निगम यहां गुमटियों के संचालन के मूड में नहीं है।

must read : इस बार स्कूलों में 21 जून को नहीं मनेगा योग दिवस, जानिए क्या है वजह

नवलखा और तीन इमली स्थित अस्थाई बस स्टैंड से करीब 500 बसों का संचालन किया जा रहा है। यहां से हजारों यात्री अन्य शहरों के लिए यात्रा करते हैं। नवलखा पर बने अस्थाई बस स्टैंड पर कुछ बाहरी लोगों ने खानपान की वस्तुएं बेचने के लिए टेबल और ठेले लगा दिए हंै। जिसके कारण बसों के संचालन में भी दिक्कत आ रही है। परिसर के बाहर कुछ दुकानें हैं, लेकिन वहां भी अहाता बना हुआ है, यात्री जाने से परहेज करते है। तीन इमली पर पहले से ही कुछ दुकानें आवंटित हैं, लेकिन यहां पर नाममात्र की खानपान की वस्तुएं मिल रही हैं। दिनभर असामाजिक तत्वों का आना-जाना लगा रहता है। पिछले दिनों एक बस संचालक की यहां उगाई भी की जा रही है, जिसकी शिकायत के बाद पुलिस ने कार्रवाई की थी।

must read : पुलिस की लापरवाही से नौ दिन गड़ा रहा युवक का शव, खुलासा होते ही 24 घंटे में पकड़ाया आरोपी

शराब दुकान से परेशान

नवलखा बस स्टैंड परिसर के पास ही शराब दुकान और आहाता बना हुआ है। सुबह से रात तक यहां शराबियों का आना-जाना लगा रहता है। इस अहाते से लगी खाने-पीने की दुकानें हैं। लेकिन शराबी और असामाजिक तत्वों की हरकतों के कारण यात्री खासतौर पर महिलाएं उन दुकानों पर नहीं जाती हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned