सामाजिक समरसता का अनूठा आयोजन मंगलवार को हुआ

सामाजिक समरसता का अनूठा आयोजन मंगलवार को हुआ

Arjun Richhariya | Publish: Mar, 14 2018 09:36:21 AM (IST) Indore, Madhya Pradesh, India

सर्वधर्म सम्भाव के साथ 70 नव युगलों के सामूहिक विवाह में 25 हजार से ज्यादा लोग शामिल हुए

इंदौर. शहर के पूर्वी क्षेत्र में सामाजिक समरसता का अनूठा आयोजन मंगलवार को हुआ। सर्वधर्म सम्भाव के साथ 70 नव युगलों के सामूहिक विवाह में 25 हजार से ज्यादा लोग शामिल हुए। साधु-संतों ने पवित्र नदियों के जल से पानी गृहण करवाया। शाम को गोधूली बेला में नव युगलों ने सात फेरे लेकर एक-दूसरे का साथ जीवन भर निभाने की कसम ली।
मंगलवार को स्किम नं 78 अरण्य नगर बावड़ी वाले हनुमान मंदिर के पास स्थित मैदान पर कर्मा सेवा संस्थान द्वारा आयोजित सामूहिक विवाह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम मे विशेष अतिथि महामंडलेश्वर कम्प्युटर बाबा, महामंलेश्वर लक्ष्मणदास, महेश मोदी, राधा मदन मोहन प्रजापत, पं. योगेन्द्र महंत, फिल्म डायरेक्टर लालजी गुप्ता, नरेन्द्र मोदी मिशन के प्रदेश अध्यक्ष नरेन्द्र साहू, भाजपा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य मुकेश साहू ने नव दम्पती को आशीर्वाद प्रदान किया। पं. पुरुषोत्तम भारद्वाज ने वैदिक परंपरानुसार विवाह संपन्न करवाई। इस अवसर पर सफल आयोजन के लिए संयोजक कमलेश्वर सिंह और मुकेश साहू का सम्मान किया गया। कार्यक्रम में नगर निगम ने सभी 70 जोड़ों को मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के लाभ प्रदान किए।

 

 

योग से शरीर-मन रहता है स्वस्थ
योग मात्र रोगों को दूर करने की प्रक्रिया नहीं है। योग शरीर के समस्त रोगों को दूर कर, मस्तिष्क को तनाव मुक्त कर, मन को पवित्र बनाकरए आत्मा का ईश्वर से संबंध स्थापित करने का एक मार्ग है। इसलिए योग ही एकमात्र ऐसी सम्पूर्ण पद्धति है, जो मनुष्य को शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक रूप से शक्तिशाली बना सकती हैं।
मंगलवार को उक्त विचार योगाचार्य पं जितेंद्र शुक्ला ने बिचौली हप्सी रोड़ स्थित ओम मंगल गार्डन में आयोजित पांच दिवसीय शरीर शुद्धि प्राकृतिक चिकित्सा एवं प्रज्ञा योग शिविर के दूसरे दिन सभी साधकों एवं शिविरार्थियों को संबोधित करते हुए व्यक्त किए। उन्होंने योग का महत्व बताते हुए कहा, योग एक प्राचीन भारतीय जीवन-पद्धति है। जिसमें शरीर, मन और आत्मा को एक साथ लाने का काम होता है। पुंजराज पटेल सामाजिक सेवा संस्था एवं अखिल विश्व गायत्री परिवार अध्यक्ष रामेश्वर पटेल गुड्डा एवं सिद्धार्थ सराठे ने बताया, पांच दिवसीय निशुल्क शरीर शुद्धि प्राकृतिक चिकित्सा एवं प्रज्ञा योग शिविर में सुबह 5 बजे योगाचार्य पं जितेंद्र शुक्ला ने सभी साधकों और शिविरार्थियों को योग शिविर में योग की सूक्ष्म क्रियाएं करवाई। जिससे सभी साधकों एवं शिविरार्थियों के नाड़ी तंत्र सक्रिय होकर मंासपेशियों स्वस्थ होना शुरू हो जाती है।

सूर्यनमस्कार कराया
शिविरार्थियों को योगिक जॉगिंग और सूर्यनमस्कार करवाए गए। जिसमें ताड़ासन, गरुडासन, नटराज आसन खड़े होकर करने वाले आसनों का विधिवत अभ्यास भी करवाया। वहीं, योगासन के पश्चात साधकों को कई बीमारियों का स्थाई उपचार योग के माध्यम से करना बताए। ओम मंगल गार्डन में आयोजित पांच दिवसीय शरीर शुद्धि प्राकृतिक चिकित्सा एवं प्रज्ञा योग शिविर में मुख्य अतिथि के रूप में महेश पटेल शामिल हुए। जिन्होंने सभी साधकों को योग करने के लाभ भी बताए। शरीर शुद्धि प्राकृतिक चिकित्सा एवं प्रज्ञा योग शिविर में योगाचार्य ने बताई क्रियाएं

yoga
Ad Block is Banned