खेल जीवन का अहम अंग

नेशनल सेमिनार

By: Anil Phanse

Published: 03 Dec 2019, 11:40 AM IST

इंदौर। खेल का क्षेत्र काफी व्यापक हो गया है और मैदानी पहलुओं के साथ तकनीकि व अन्य परिस्थितियों में भी खिलाडिय़ों व प्रशिक्षकों को तत्पर रहना होता है। उक्त उदगार डॉ.शिवशंकर शर्मा ने सेंटपॉल इंस्टीटयूट ऑफ प्रोफेशनल स्टडीज द्वारा आयोजित नेशनल स्पोट्र्स सेमिनार में व्यक्त किए। शर्मा ने बताया की खेल जीवन का अहम अंग है और व्यवहारिक जीवन में भी यह हमारे काम आता है। जो खिलाड़ी एक बार मैदान में उतर जाता है तो फिर उसमें रम जाता है। देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के शरीरिक शिक्षा निदेशक सुनील दुधाले ने बताया की खेलों से व्यक्ति का सर्वागिण विकास होता है और हम चाहे कोई भी खेल हो इससे व्यक्ति शरीरिक के साथ मानसिक रूप से भी मजबूत होता है। इस दौरान दुधाले ने सेमिनार में मौजूद अनेक युवाओं और प्रशिक्षकों को तकनीकि पहलुओं से अवगत कराया। डॉ. अविनाश यादव व डॉ. सिस्टर एलिस थॅामस ने भी प्रेरक उद्बोधन दिया। संचालन डॉ. रफिक खान ने किया।
सितारा-ए-इंदौर दंगल समिति
शहर में 15 दिसंबर को होने वाले सितारा इंदौर दंगल के लिए समिति का गठन किया गया है। इसमें अध्यक्ष नरेश वर्मा, उपाध्यक्ष मनीष बजाज और शुभम ठाकुर व सचिव अंसारी होंगे। सह सचिव आरिफ खिलजी, अमन बजाज, संतोष यादव, अफसर पटेल, साजिद शेख, मोहम्मद अकबर होंगे। संयोजक हेमंत यादव व मो. अज्जू अजीज होंगे। आयोजक अमन अमन व युसूफ कुरैशी हैं।

Anil Phanse Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned