श्रीलक्ष्मी वेंकटेश देवस्थान में श्रीमद भागवत कथा में गिरिराज पर्वत पर सुनाया वृतांत

श्रीलक्ष्मी वेंकटेश देवस्थान में श्रीमद भागवत कथा में गिरिराज पर्वत पर सुनाया वृतांत

Amit S mandloi | Updated: 27 May 2019, 05:43:34 PM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

छत्रीबाग वेंकटेश मंदिर में भागवत कथा

इंदौर . छत्रीबाग स्थित श्रीलक्ष्मी वेंकटेश देवस्थान में श्रीमद भागवत कथा यज्ञ में गिरिराज महाराज का वृतांत हुआ। प्रभु वेंकटेश ने गिरिराज पर्वत धारण किया। बारिश और कड़कड़ाती बिजली के बीच प्रभु ने भक्तों को दर्शन दिए।

गोबर के गिरिराज महाराज का सुंदर स्वरूप बनाकर नागोरिया पीठाधिपति स्वामी विष्णु प्रपन्नाचार्य महाराज व गोवत्स पुण्डरीक गोस्वामी के साथ यजमान दिनेश हर्ष डागा परिवार द्वारा सजाकर उनका पूजन किया। इस अवसर पर ५६ भोग भी अर्पित किए गए। कथा में वैष्णवाचार्य पुण्डरीक गोस्वामी ने रविवार को कृष्ण लीलाओं का वर्णन करते हुए कहा कि प्रभु कृष्ण ने बाल लीलाओं में कई राक्षसों का उद्धार किया। इंद्र भगवान का घमंड चूर करने के लिए गिरिराज पर्वत उठा लिया और सभी की रक्षा की। भजनों पर भक्त कई बार झूम उठे। रमण बिहारी की कुंज बिहारी की आरती हुई। साथ ही प्रसाद का वितरण किया। इस अवसर पर पुरुषोत्तम अग्रवाल, सुधीर देडग़े, श्याम गुप्ता, अरविंद बागडी, गोलू शुक्ला, गिरधर जेठा, अनुराग जेठा, पवन व्यास सहित बड़ी संख्या में समाजजन मौजूद थे। पंकज तोतला ने बताया सोमवार को दोपहर ३ बजे से कथा शुरू होगी और उसमें रुक्मिणी विवाह उत्सव मनाया जाएगा। प्रभु की बारात निकलेगी, चवरी में विवाह की रस्में होगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned