मां ने की दूसरी शादी, ऐसा क्या हुआ कि 14 साल की बेटी से मिलने आई तो लगाई फांसी

पढऩे में काफी होशियार थी, सारिका ने आसपास के लोगों की मदद से दरवाजा तोड़ा तो अंदर वो फांसी पर लटकी मिली।

By: amit mandloi

Published: 03 Nov 2017, 06:17 PM IST

इंदौर. परदेशीपुरा इलाके में रहने वाली १४ साल की किशोरी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मां मिलने घर आई तो काफी देर तक दरवाजा नहीं खोला। इस पर लोगों की मदद से दरवाजा तोड़ा तो बेटी को फांसी पर लटका देख सन्न रह गई। किशोरी पढऩे में काफी होशियार थी।


परदेशीपुरा पुलिस के मुताबिक, जनता क्वार्टर निवासी याशिता पिता मुकेश यादव (१४) ने बुधवार रात घर में फांसी लगा ली। पिता एबी रोड पर कपड़ों के शोरूम में काम करते हैं। उनका वर्ष २०१४ में पत्नी सारिका से तलाक हो चुका है। सारिका दूसरी शादी कर चुकी है और कभी-कभार बेटी से मिलने घर आती थी। बुधवार रात जब वो घर पहुंची तो काफी देर तक याशिता ने दरवाजा नहीं खोला। सारिका ने फोन भी किया, लेकिन वो भी नहीं उठाया। इसके बाद सारिका ने आसपास के लोगों की मदद से दरवाजा तोड़ा तो अंदर वो फांसी पर लटकी मिली। उसे उतारकर पड़ोसी की कार से निजी अस्पताल ले गए, लेकिन डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। सारिका ने फोन कर मुकेश को घटना की जानकारी दी।

हैरत में पिता
मुकेश ने बताया, बेटी को कोई परेशानी नहीं थी। वो पढऩे में भी काफी होशियार थी। उसकी हर इच्छा वो पूरी करता था। याशिता सुबह ९ बजे स्कूल जाती और २.४५ घर लौटती थी। घर आने पर फोन कर पिता से बात करती थी। पुलिस ने उसका मोबाइल जब्त किया है। घर से सुसाइड नोट भी नहीं मिला। मुकेश इस बात से हैरत में है कि आखिर घर में अकेली बेटी ने ये कदम क्यों उठाया।

१२ साल की बच्ची ने लगाई फांसी
विजय नगर इलाके की कृष्णबाग कॉलोनी निवासी कल्याणी उर्फ काली (१२) पिता रामपाल जाट ने गुरुवार को घर में फांसी लगाकर जान दे दी। परिवार में पिता, मां, बड़ी बहन रिंकी व भाई अंकित है। भाई-बहन नौकरी पर गए थे। वहीं पिता मिस्त्री है, वे भी सुबह सात बजे साइट पर चले गए थे। मां किसी काम काम से गई थी। जब वापस आई तो बेटी को फांसी पर देखा। परिवार को भी समझ नहीं आ रहा है कि बच्ची ने आत्महत्या क्यों की?

 

सौतेला पिता ही कर रहा था छेड़छाड़ मामला दर्ज होने के बाद आरोपी फरार
बाणगंगा इलाके में १६ साल की किशोरी के साथ सौतेला पिता ही छेड़छाड़ करता है। परेशान किशोरी ने मां को घटना के बारेे में बताया तो उन्होंने पुलिस को शिकायत की।

बाणगंगा पुलिस ने अंजनी नगर निवासी १६ वर्षीय किशोरी की रिपोर्ट पर सौतेले पिता दिलीप दमाढ़े निवासी गणेशधाम कॉलोनी के खिलाफ छेड़छाड़ का केस दर्ज किया है। जांचकर्ता एसआई विनोद शर्मा ने बताया, किशोरी की मां ने पहले पति से तलाक लेने के बाद दिलीप से शादी की थी। उनके बीच भी विवाद होने लगे तो छह महीने से वो अलग रहते हैं। तो वो थाने पहुंचे। फिलहाल दिलीप अभी फरार है।


दहेज प्रताडऩा का केस
परेशान महिला ने महिला थाने पर भी शिकायत की थी। इस पर वहां भी दिलीप के खिलाफ दहेज प्रताडऩा का केस दर्ज हुआ था। १५ अक्टूबर को जब किशोरी घर में अकेली थी, तब दिलीप यहां आया और उसने छेड़छाड़ की और धमकाया भी था। बुधवार को उसने मां को घटना बताई।

amit mandloi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned