इन्दौर के पड़ोसी जिले में ही नहीं बन पाई अभी तक सड़क ,फैला हुआ है कचरा

विधायक और नगर निगम अमला ध्यान देने को तैयार नहीं है

देवास. स्वच्छता और विकास को लेकर गांवों में जाग्रति आ चुकी है, लेकिन देवास शहर के कुछ हिस्से के हालात गांव से बदतर नजर आ रहे हैं। नगर निगम अमला सिर्फ कागजों और झूठे प्रचार के माध्यम से अपने आप को नंबर वन बनाने की कवायदों में लगा हुआ है। शहर में आज भी लोग जर्जर सड़कें और डे्रनेज के गंदे पानी से परेशान हो चुके हैं। मुक्तिधाम जाने वाले मार्ग की हालत खराब हो चुकी है।

 

 

अपनों को मुक्तिधाम छोडऩे जाने पर अपने से बिछडऩे से दुख के अलावा जर्जर सड़क से गुजरना और कठिन हो जाता है। कई बार इस मार्ग को बनाने की मांग उठी है, लेकिन विधायक और नगर निगम अमला ध्यान देने को तैयार नहीं है। इतना ही नहीं कई जगह डे्रनेज गंदे पानी से उबाल मार रहे हैं। शहर को सुंदर बनाए जाने के लिए दिन-रात सफाई कर्मचारी लगे हुए हैं। ये कर्मचारी सुबह से देर रात तक सड़कों की सफाई कर रहे हैं। नगर निगम अमले का ध्यान सिर्फ सड़कों की धूल झाडऩे तक ही सीमित है। साथ ही कोरे प्रचार पर ही निर्भर नजर आ रहा है, जबकि धरातल पर निगम अमला लोगों को कोई राहत देता नजर नहीं आ रहा है।

मुक्तिधाम में अंतिम क्रिया के लिए शामिल होने वाले लोगों को खासी मशक्कत का सामना करना पड़ता है। ये सड़क काफी जर्जर हो चुकी है। इसी मार्ग से कई लोग पैरों में कुछ नहीं पहनकर भी क्रिया में शामिल होने के लिए जाते हैं, जर्जर सड़क से निकली गिट्टी से पैरों में घाव हो जाते हैं। इतना ही नहीं यहां कई मकान भी बने हुए हैं, जर्जर सड़क के चलते लोग खासे परेशान नजर आ रहे हैं। वहीं दूसरी ओर राधागंज का मार्ग जर्जर हो चुका है। इसी मार्ग से बीएनपी जाने का रास्ता है। दिनभर में कई लोग इस रास्ते से गुजरते हैं।

नेताओं का भी ध्यान नहीं : इसी मार्ग पर सभापति अंसार अहमद और भाजपा नेता धर्मेंद्र बैस का दफ्तर भी है, लेकिन नेताओं का ध्यान इस ओर नहीं है। शहर में सफाई का दावा करने वाली नगर निगम का ध्यान डे्रनेज की ओर है ही नहीं। कई जगह डे्रनेज से नाले उबाल खा रहे हैं। डे्रनेज के गंदे पानी के चलते लोग बीमार हो रहे हैं, लेकिन निगम अमला जोर-शोर से प्रचार कर वाहवाही लूटता नजर आ रह है। मल्हार रोड स्थित एक नाला वर्षों से उबाल मार रहा है। जिसकी शिकायत कई लोगों ने की है, लेकिन उन्हें राहत नहीं मिल पाई।

- ९२९गंदगी बहने के कारण आसपास रहने वाले हजारों लोग परेशान हैं, लेकिन निगम अमला कागजी घोड़े दौडऩे में व्यस्त नजर आ रहा है।
- ९२३ राधागंज का वह मार्ग जो कट गया है, इस मार्ग से कई लोग गुजरते हैं। इसी मार्ग पर भाजपा के आला नेता का घर और ऑफिस है, लेकिन उनका ध्यान नहीं जा रहा है।

अर्जुन रिछारिया Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned