scriptTeacher is a natural leader - IIM Director | एक स्वाभाविक लीडर है शिक्षक - आईआईएम डायरेक्टर | Patrika News

एक स्वाभाविक लीडर है शिक्षक - आईआईएम डायरेक्टर

- महामारी ने दिए विजन, इंट्रोस्पेक्शन और डिस्कवरी के अवसर
- आईआईएम इंदौर व जीआईजेड जर्मनी की दो दिनी ऑनलाइन कॉन्फ्रेंस के उद्घाटन पर बोले आईआईएम डायरेक्टर

इंदौर

Published: April 16, 2022 05:53:07 pm


इंदौर.
कोविड महामारी ने हमें अपनी दृष्टि (विजन), आत्मनिरीक्षण (इंट्रोस्पेक्शन) और खोज (डिस्कवरी) का अवसर दिया है। हर संगठन की तरह हम मनुष्यों को भी अपने लिए एक दृष्टि तय करनी चाहिए। दृष्टि हमें अपने अस्तित्व के उद्देश्य की पहचान कराती है। शिक्षकों और शोधार्थियों के रूप में, हमें अपना उद्देश्य खोजने और फिर उसे प्राप्त करने के लिए कड़ी मेहनत करने की आवश्यकता है।
यह कहना है आईआईएम इंदौर के डायरेक्टर प्रो.हिमांशु राय का। वे आईआईएम इंदौर व जीआईजेड जर्मनी के सहयोग से ‘कोविड 19 : सीख और प्रबंधन पर प्रभाव’ विषय पर दो दिवसीय ऑनलाइन कांफ्रेंस के पहले दिन संबोधित कर रहे थे। इस दौरान कॉन्फ्रेंस कोऑर्डिनेटर प्रो. मीत वच्छराजानी, आईआईएम के रिसर्च डीन प्रो. प्रीतम रंजन, फैकल्टी प्रो. अभिषेक मिश्रा आदि मौजूद थे। प्रो. राय ने कहा कि शिक्षक होने से व्यक्ति स्वाभाविक तौर पर एक लीडर भी बन जाता है। आपके विद्यार्थी आपके कार्यों का अनुसरण करेंगे, क्योंकि वे आपसे ही सीखते हैं। सही मार्ग चुनकर और सही समय पर सही निर्णय लेकर उनके लिए एक मिसाल कायम करें।
जीआईजेड इंडिया के कार्यक्र निदेशक अमित पालीवाल ने आईआईएम के साथ सहयोग करने पर अपनी खुशी साझा की। उन्होंने कहा कि पिछले दो साल दुनिया के लिए चुनौतीपूर्ण रहे हैं, खासकर भारत के लिए। लाखों लोग अपनी जान गंवा चुके हैं, और आर्थिक क्षेत्रों को पहले की तरह व्यवधानों का सामना करना पड़ा है। स्वास्थ्य और शिक्षा के क्षेत्र में भी बड़े पैमाने पर बदलाव देखा। आईआईएम इंदौर के साथ इस फलदायी सहयोग ने हमें शिक्षाविदों, उद्योगपतियों और शोधकर्ताओं को एक साथ आने और अपने विचारों को साझा करने के लिए एक मंच प्रदान करने का अवसर दिया है।
इंडस्ट्री गेस्ट स्पीकर माधव कल्याण (एमडी और सीईओ, जेपी मॉर्गन चेस बैंक इंडिया) ने बैंकिंग क्षेत्र पर कोविड के प्रभाव पर चर्चा के दौरान कहा कि कहा कि महामारी के कारण मांग, आपूर्ति और वित्तीय क्षेत्र में व्यवधान आया है, जिसके परिणामस्वरूप आर्थिक मंदी आई है। महंगाई पिछले कुछ दशकों से एक सतत समस्या रही है। हालांकि, महामारी के दौरान, हमने आर्थिक क्षेत्र में मांग-आपूर्ति श्रृंखला में भी समस्याएं देखीं। सख्त सोशल डिस्टेंसिंग मानदंडों ने बैंकों को अपने ग्राहक संबंधों और प्रतिधारण को मजबूत करते हुए अपनी नीतियों और नेटवर्क के पुनर्गठन के लिए प्रोत्साहित किया है। डिजिटल और कैशलेस भुगतान प्रणाली शुरू में बैंकों द्वारा निभाई जाने वाली मध्यवर्ती भूमिका के लिए एक खतरा बन गई। हालांकि, सरकार और आरबीआई द्वारा नई नीतियों के साथ, बैंक एक बार फिर से सशक्त हो रहे हैं।
एक स्वाभाविक लीडर है शिक्षक - आईआईएम डायरेक्टर
एक स्वाभाविक लीडर है शिक्षक - आईआईएम डायरेक्टर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठाLiquor Latest News : पियक्कडों की मौज ! रात एक बजे तक खरीदी जा सकेगी शराबशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफMorning Tips: सुबह आंख खुलते ही करें ये 5 काम, पूरा दिन गुजरेगा शानदारDelhi Schools: दिल्ली में बदलेगी स्कूल टाइमिंग! जारी हुई नई गाइडलाइनMahindra Scorpio 2022 का लॉन्च से पहले लीक हुआ पूरा डिजाइन और लुक, बाहर से ऐसी दिखती है ये पावरफुल कारबैड कोलेस्‍ट्राॅल और डिमेंशिया को कम करके याददाश्त को बढ़ाता है ये लाल खट्‌टा-मीठा फल, जानिए इसके और भी फायदेAC में लगाइये ये डिवाइस, न के बराबर आएगा बिजली बिल, पूरे महीने होगी भारी बचत

बड़ी खबरें

अफगानिस्तान के काबुल में भीषण धमाका, तालिबान के पूर्व नेता की बरसी पर शोक मना रहे लोगों को बनाया गया निशानाPunjab Borewell Accident: बोरवेल में गिरे 6 साल के बच्चे की नहीं बचाई जा सकी जान, अस्पताल में हुई मौतBJP को सरकार बनाने के लिए क्यूँ जरूरी है काशी और मथुरा? अयोध्या से बड़ा संदेश देने की तैयारी..पश्चिम बंगाल का पूर्व मेदिनीपुर जिला बम धमाकों से दहला, तलाशी के दौरान बरामद हुए 1000 से अधिक बमIPL 2022, SRH vs PBKS Live Updates: पंजाब ने हैदराबाद को 5 विकेट से हरायाकपिल देव के AAP में शामिल होने की चर्चा निकली गलत, सोशल मीडिया पर पूर्व कप्तान ने खुद साफ की स्थितिआख़िर क्यों असदुद्दीन ओवैसी बार-बार प्लेसेज ऑफ़ वर्शिप एक्ट का रो रहे हैं रोना, यहां जानेंपुजारा और कार्तिक की टीम में वापसी, उमरान मालिक को भी मिला मौका, देखें दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड दौरे का पूरा स्क्वाड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.