scriptthe claimants of the ticket showed their strength | मुख्यमंत्री के सामने  टिकट के दावेदारों ने दिखाया दम | Patrika News

मुख्यमंत्री के सामने  टिकट के दावेदारों ने दिखाया दम

इंदौर की चार नंबर विधानसभा ने इकट्ठा किए खिलौने व अन्य सामान

इंदौर

Published: June 01, 2022 11:14:50 am

इंदौर। आंगनवाड़ी के बच्चों के लिए खिलौने इकट्ठा करने के कार्यक्रम में पार्षद टिकट के दावेदारों ने कल भरपूर दम दिखाया। वार्ड में जिनको संभावनाएं नजर आ रही हैं, वे खर्च करने में पीछे नहीं हटे। कुछ पूर्व पार्षद नजर तो आए लेकिन उन्होंने कोई प्रयास नहीं किया। वजह साफ थी कि अब वार्ड उनके अनुकूल नहीं रहा और दूसरी जगह से टिकट मिलने की उम्मीद भी नहीं है।
मुख्यमंत्री के सामने  टिकट के दावेदारों ने दिखाया दम
मुख्यमंत्री के सामने  टिकट के दावेदारों ने दिखाया दम
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेशभर की आंगनवाडिय़ों को मजबूत और बच्चों को स्वस्थ करने का बीड़ा उठाया है। उनका कहना है कि ये काम सरकार तो कर रही है लेकिन आम जनता भी आगे आए और समाज की सहभागिता
रहे। इसके चलते कल इंदौर गौरव दिवस पर वे ठेला लेकर निकले और बच्चों के लिए खिलौने व आवश्यक सामग्री इकट्ठा की। साथ में लाखों रुपए की सहायता राशि भी जमा हुई। ये आयोजन चार नंबर भाजपा की अयोध्या कहलाने वाले लोधीपुरा में रखा गया था, जो 15 साल बाद दुल्हन की तरह सजा नजर आया।
पार्षद का टिकट लेने के इच्छाधारियों में सामग्री देने की होड़ सी दिखाई दे रही थी। सभी ने दम दिखाने का प्रयास किया। ज्यादा से ज्यादा सामग्री कौन दे सकता है, इसको लेकर प्रतिस्पर्धा चल रही थी। विधायक मालिनी गौड़ के खास राकेश जैन ने 5 एलईडी टीवी, दिलीप बांडा ने 11 एलईडी टीवी, सुधीर देडग़े, कमल लड्डा और शानू शर्मा ने बड़ी मात्रा में खिलौने भेंट किए तो गुड्डा शुक्ला ने डस्टबिन दिए। इसके अलावा सभी वार्डों के दावेदारों ने दम दिखाने के लिए अपनी जेब से सामग्री एकत्र कर दी। मालिनी गौड़ का भी एक काउंटर लगा था, जिसमें परिवार के सदस्य मौजूद थे। वहीं, लोधीपुरा को सजाने की जिम्मेदारी पूर्व नगर अध्यक्ष के भतीजे विशाल शर्मा के पास थी।
यहां राजी-नाराजी
दो नंबर विधानसभा को जो जगह दी गई थी, वहां पूर्व पार्षद चंदूराव शिंदे की खिलौनों से भरी गाड़ी आकर खड़ी हो गई। इस पर कुछ पुलिस वालों ने आपत्ति ली। ड्राइवर को उतारकर एक सिपाही गाड़ी पर बैठ गया और बाहर ले
जाने लगा। इस बात की भनक शिंदे को लगी तो वे नाराज हो गए। उन्होंने मौजूदा अफसरों की जमकर लू उतार दी। उनका कहना था कि मुझे मालूम है आप किन लोगों के इशारों पर गाडी़ को हटा रहे हो। शिंदे का गुस्सा देखकर अफसरों ने हाथ जोड़ लिए।
वापस गाडी़ को लगा दिया गया। इसी प्रकार जब तीन नंबर के मंच तक मुख्यमंत्री पहुंचे, तब पुलिस अफसरों ने मंडल अध्यक्ष रितेश विरांग को धक्का दे दिया। इस पर वे नाराज हो गए। ये नजारा जैसे ही नगर भाजपा अध्यक्ष गौरव रणदिवे ने देखा उन्होंने पुलिस अफसरों को बोला कि ये हमारे मंडल अध्यक्ष हैं। साथ में चलेंगे, आगे से ऐसी हरकत नहीं होना चाहिए। विरांग ने बाद में तीन नंबर के मंच के सामने मुख्यमंत्री को माइक थमाकर दो शब्द बोलने का आग्रह किया।
तीन नंबर ने भी जुटाई भीड़
तीन नंबर विधायक आकाश विजयवर्गीय ने भी बड़ी संख्या में मंच पर भीड़ जमा कर रखी थी तो खिलौनों की गाडिय़ां लेकर पहुंचे थे। इनके अलावा पूर्व पार्षद मनोज मिश्रा ने कॉपी-किताबों के साथ पानी के जार दिए ताकि आंगनवाड़ी में स्वच्छ पानी की व्यवस्था हो सके।
लौट गया सामान
कुछ नेता गाडिय़ां भरकर सामान लाए थे। मुख्यमंत्री ने औपचारिकता पूरी करते हुए सामान को ठेले पर रखा। बाद में नेता गाडिय़ों को लेकर रवाना हो गए। पूछे जाने पर तर्क था कि हमारे क्षेत्र की आंगनवाडिय़ों को सौंपा जाएगा, जबकि
मुख्यमंत्री ने मंच से घोषणा की थी कि सारा माल कलेक्टर की निगरानी में जमा होगा। वहां से कहां भेजना है, यह तय होगा। निगम के कुछ अफसर तो दरियादिल हो गए थे। बस्ती के बच्चे पहुंचे तो उन्हें खिलौने बांट दिए।
ये छोड़ चुके आशा
लोधीपुरा गली नंबर एक की जिम्मेदारी चार नंबर विधानसभा को सौंपी गई थी। सभी पूर्व पार्षदों को बकायदा सूचना देकर खिलौने व अन्य सामग्री इकट्ठा करने को कहा गया था। बड़ी संख्या में लोगों ने उत्साह दिखाया तो कुछ पूर्व पार्षदों दूरी बनाई। इनमें देवेंद्र रावत, ज्योति तोमर, विनिता धर्म और राजेश शुक्ला प्रमुख थे, जिनका कोई स्टॉल नहीं लगा। इनमें से कुछ दूसरों के स्टॉल पर जरूर नजर आए।
भाजयुमो की भी एक गाडी़
आंगनवाड़ी के बच्चों के लिए भाजयुमो नगर अध्यक्ष सौगात मिश्रा ने भी एक गाडी़ भरकर सामग्री भेंट की। उसमें कूलर, टीवी, पंखे, कॉपियां, खिलौने, साइकिल, कुर्सी, बैग आदि थे।

तीन हजार महिलाओं को पहनाया केसरिया दुपट्टा
तिलक नगर क्षेत्र में भी कल इंदौर गौरव दिवस मनाया गया। नारी शक्ति को भगवा दुपट्टा पहनाकर स्मानित किया गया। ये काम भाजपा नेता राजा कोठारी के नेतृत्व में किया गया, जिसमें अनिशा कोठारी, रुचिरा जायसवाल, काजल गुह्रश्वता, मंजू पाल, संदीप कौशल और कृष्णा मराठा भी शामिल थीं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

जयपुर में एक स्वीमिंग पूल में रात का सीसीटीवी आया सामने, पुलिसवालें भी दंग रह गएकचौरी में छिपकली निकलने का मामला, कहानी में आया नया ट्विस्टइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलचेन्नई सेंट्रल से बनारस के बीच चली ट्रेन, इन स्टेशनों पर भी रुकेगीNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयधन कमाने की योजना बनाने में माहिर होती हैं इन बर्थ डेट वाली लड़कियां, दूसरों की चमका देती हैं किस्मतCBSE ने बदला सिलेबस: छात्र अब नहीं पढ़ेगे फैज की कविता, इस्लाम और मुगल साम्राज्य सहित कई चैप्टर हटाए

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: बीजेपी ऐसे भिखारियों का हाथ पकड़कर खुद को बता रही महाशक्ति.. ‘सामना’ के जरिए फिर शिवसेना ने कसा तंजAmit Shah on 2002 Gujarat Riots: गुजरात दंगों पर SC के फैसले के बाद बोले अमित शाह, PM मोदी को इस दर्द को झेलते हुए देखा हैकेरल में राहुल गांधी के दफ्तर पर हुए हमले के बाद बड़ी कार्रवाई, DSP निलंबित, ADGP करेंगे मामले की जांच25 जून 1983, 39 साल पहले भारत ने रचा था इतिहास, लॉर्ड्स में वर्ल्ड कप जीतकर लहराया तिरंगाकौन हैं तपन कुमार डेका, जिन्हें मिली इंटेलिजेंस ब्यूरो की कमानपाकिस्तान की खुली पोल, 26/11 मुंबई हमले का मास्टर माइंड साजिद मीर जिंदा, ISI ने मोस्ट वांटेड आतंकी को बताया था मराMumbai News Live Updates: शिवसेना के पुणे शहर प्रमुख संजय मोरे ने खुलेआम दी धमकी, कहा- बागी विधायकों के दफ्तरों पर करेंगे हमला, किसी को नहीं छोड़ेंगेMaharashtra Political Crisis: एक्शन में शिवसेना! अयोग्य करार देने के लिए डिप्टी स्पीकर को भेजा 4 और MLA के नाम, 16 बागियों पर भी कार्रवाई की तैयारी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.