दर्दनाक दुर्घटना : मैनेजर को डंपर कई फीट तक घसीटता रहा मौके पर ही मौत, लाश फंस गई पहिये में

इंश्योरेंस कंपनी के डिप्टी ब्रांच मैनेजर को मंगलवार सुबह डंपर ने रौंद दिया। घटनास्थल पर उनकी दर्दनाक मौत गई।

By: Krishnapal Singh

Updated: 31 Oct 2018, 11:09 AM IST

इंदौर. इंश्योरेंस कंपनी के डिप्टी ब्रांच मैनेजर को मंगलवार सुबह डंपर ने रौंद दिया। घटनास्थल पर उनकी दर्दनाक मौत गई। वहीं बाइक चला रहे उनके घायल साथी को लोगों ने एम्बुलेंस से उपचार के लिए पहुंचाया। घटना के बारे में जो जानकारी परिजन को लगी है उसमें डंपर चालक की लापरवाही सामने आ रही है। घटना स्थल पर पहुंची पुलिस ने डंपर के पहिए में फंसी बाइक और शव को निकाला।
पुलिस के मुताबिक गौरव कुमार (38) पिता हरवंशलाल निवासी आनंद एन्क्लेव की तेज रफ्तार डंपर की चपेट में आने से मौत हुई है। घटना क्षेत्र के एडवांस एेकेडमी के समीप की है। मृतक मैनेजर के परिवार में पत्नी पायल कुमार, बेटी सौम्या 6 और 3 साल का बेटा है। उनकी एक बहन संध्या अशोकनगर में रहती है। दिल्ली में बहन अंजू और भोपाल में बहन पिंकी रहती है। घटना की सूचना के बाद परिजन भी एमवाय पहुंचे। उनके आने के बाद पुलिस ने शव का पीएम कराया है। मामले में पुलिस ने लापरवाह चालक और उसके डंपर पर कार्रवाई करने की बात कही है।

सामने से आ रहे डंपर ने मारी टक्कर, साथी भी गंभीर घायल
गौरव अपने साथी ज्ञानेंद्र (24) पिता रूप सिंह निवासी तपेश्वरी बाग के साथ बाइक पर सवार होकर बंशी ट्रेड सेंटर स्थित दफ्तर के लिए निकले। बाइक ज्ञानेंद्र चला रहे थे। प्राथमिक जांच में पता चला है कि मार्ग पर सामने से आ रहे तेज रफ्तार डंपर ने बाइक को टक्कर मार दी। संतुलन बिगड़ते ही दोनों कर्मचारी रोड पर गिर गए। टक्कर से ज्ञानेंद्र, डंपर की विपरीत दिशा में उछलकर गिरे। उनके पीछे बैठे गौरव कुमार बाइक के साथ कई फीट तक घसीटते चले गए। जब तक डंपर रुकता गौरव उसके पहिए की चपेट में आ गए। जिससे उनकी घटनास्थल पर मौत हो गई।पहिए में शव का कुछ हिस्सा बुरी तरह फंस गया था, जिसे मशक्कत के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने निकाला। वहीं गंभीर घायल साथी ज्ञानेंद्र को राहगीर ने 108 एम्बुलेंस की मदद से एमवाय हॉस्पिटल पहुंचाया। यहां उनका उपचार जारी है।

 

Krishnapal Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned