180 किसानों से 2.63 करोड़ की धोखाधड़ी करने वाले व्यापारियों पर पुलिस ने 6 माह बाद दर्ज की एफआइआर

180 किसानों से 2.63 करोड़ की धोखाधड़ी करने वाले व्यापारियों पर पुलिस ने 6 माह बाद दर्ज की एफआइआर
180 किसानों से 2.63 करोड़ की धोखाधड़ी करने वाले व्यापारियों पर पुलिस ने 6 माह बाद दर्ज की एफआइआर

Reena Sharma | Updated: 18 Sep 2019, 11:30:46 AM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

-किसानों ने कलेक्टोरेट का घेराव किया, व्यापारी के घर धरना दिया पर रहे खाली हाथ

-इसके बाद भी सभी व्यापारी हो गए फरार

 

इंदौर. 180 किसानों से 2.68 करोड़ रुपए कीमत का गेहूं खरीदकर धोखाधड़ी करने वाले व्यापारियों के खिलाफ पुलिस ने आखिरकार 6 महीने बाद धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज कर लिया। पुलिस के मुताबिक सभी आरोपी फरार हैं और उनकी तलाश जारी है। मामले में मंडी निरीक्षक ने किसानों की ओर से थाने पहुंच कर शिकायत की। आरोपी व्यापरियों ने मंडी से ऊंचे भाव में किसानों से गेहूं खरीदे पर भुगतान नहीं किया। उन्हें जो चेक दिए वह भी बाउंस हो गए।

must read : हनुमान मंदिर परिसर में एसडीएम ने लगाई धारा 144, भड़के भक्त बोले - देखते है कैसे रौकता है प्रशासन

फसल गंवाने और माल नहीं मिलने से नाराज किसानों ने कई जतन किए पर उन्हें राशि नहीं मिली। उन्होंने कलेक्टोरेट का घेराव किया, व्यापारी के घर पर धरना दिया, आरोपियों की संपत्ति की सूची बनाकर प्रशासन को दी। इसके बावजूद आरोपी फरार हो गए।

must read : भगवाधारियों पर टिप्पणी से भड़के भाजपाई, काटी कांग्रेस महासचिव दिग्विजयसिंह की 'जुबान'

टीआई विनोद कुमार दीक्षित के मुताबिक लक्ष्मीबाई नगर मंडी के निरीक्षक रमेशचंद्र परमार की शिकायत पर आरोपी गिरधर खंडेलवाल, राजेंद्र खंडेलवाल, संजय खंडेलवाल, माणकचंद खंडेलवाल और प्रणव उर्फ राघव खंडेलवाल सभी निवासी मल्हारगंज के खिलाफ धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज किया है। आवेदन में आरोपियों की अर्पूव ट्रेडिंग कंपनी, श्री हरि पल्सेस, हजारीलाल एंड कंपनी, भागीरथ धन्नालाल, हिंदुस्तान ऑग्रेनिक फर्म होना बताया गया।

must read : होलकरकालीन सिनेमाघर रीगल पर अब हमेशा के लिए ताला, 85 साल पुराना है इंदौर का यह टॉकीज

आरोपियों ने मंडी से 8 कि लोमीटर दूर चंदन नगर क्षेत्र स्थित फर्म राधेश्याम ट्रेडिंग कंपनी से 180 किसानों का 25 से 30 हजार क्वींटल गेहूं खरीदा। किसानों ने कलेक्टोरेट का घेराव किया, व्यापारी के घर धरना दिया पर रहे खाली हाथ इसके बाद भी सभी व्यापारी हो गए फरार

धरना समाप्त, मंडी शुरू

इधर, मंडी सचिव और वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों के आश्वासन के बाद किसानों ने लक्ष्मीबाई नगर अनाज मंडी में चल रहा आंदोलन दूसरे दिन समाप्त कर दिया। बुधवार से मंडी सुचारू रूप से शुरू हो जाएगी। व्यापारियों के खिलाफ सोमवार को भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले किसानों ने आंदोलन शुरू किया था।

तो फिर होगा आंदोलन

अपर कलेक्टर कैलाश वानखेड़े, अजयदेव शर्मा, एएसपी मनीष खत्री, एसडीएम राकेश शर्मा मंडी पहुंचे और किसानों से कई दौर की चर्चा की। अधिकारियों ने कहा, उन्हें एक महीने में भुगतान करा दिया जाएगा। भारतीय किसान यूनियन के जिला अध्यक्ष बबलू जाधव ने कहा, यदि राशि का भगुतान नहीं हुआ तो फिर आंदोलन करेंगे।

-किसानों को आश्वासन दिया है कि व्यापारी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। प्रकरण दर्ज होने और सख्त कार्रवाई के आश्वासन के बाद किसान मान गए और उन्होंने धरना समाप्त कर दिया है।

कैलाश वानखेडे़, अपर कलेक्टर

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned