७० लाख का सोना चोरी कर खरीदा था 35 लाख में, जब्ती के लिए जाएंगे मुंबई

ओएलएक्स पर बिकने आई गाड़ी का नंबर लगाकर चोरी करने आए थे शातिर आरोपी, तीन खरीदार भी गिरफ्तार


इंदौर. छोटा सराफा में हुई 70 लाख के सोने की चोरी के मामले में पुलिस ने चोरी का सोना खरीदने के मामले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने 70 लाख का सोना 35 लाख में बेचकर उधारियां चुका दी है। मुंबई से इंदौर आने के लिए आरोपियों ने ओएलएक्स पर बिकने आई कार के नंबर का इस्तेमाल किया था। तीनों आरोपियों को शनिवार को कोर्ट में पेश कर पुलिस ने 13 जनवरी तक रिमांड पर लिया था, सोना जब्ती के लिए उन्हें मुंबई लेकर जाएंगे।
चोरी के मामले में गिरफ्तार अर्शद व सईद से मिली जानकारी के आधार पर तीन आरोपी मनोजित उर्फ मनोज पिता काशीराम मूल निवासी पश्चिम बंगाल हाल मुंबई, शेख जहांगीर और धर्मा सोनकर निवासी मुंबई को गिरफ्तार किया। सीएसपी एसकेएस तोमर व टीआई सुनील शर्मा ने आरोपियों से पूछताछ की तो उन्होंने तीनों का नाम बताया था। मनोज ने चोरी के सोने को गलाया, जहांगीर ने दलाल का काम किया और धर्मा सोनकर ने उसे खरीद लिया था। आरोपियों का कहना है कि गलाने के बाद ठोस सोना कम निकला था। 70 लाख के बदले तीनों को खरीदार ने 35 लाख दिए थे जो तीनों ने बराबर बांट लिए। इकबाल अपना हिस्सा लेकर कश्मीर चला गया जबकि अन्य दोनों का कहना है कि उन पर काफी उधार था जो चुकता कर दिया। अब आरोपियों को लेकर टीम मुंबई जा रही है।

सावधान रहने की जरुरत, चोरी में सोशल मीडिया का इस्तेमाल
सराफा चोरी के मामले में सोशल मीडिया के दुरुपयोग का मामला भी सामने आया है। सीएसपी एसकेएस तोमर के मुताबिग,आरोपी अर्शद के पास एक नीले रंग की है। आरोपियों ने ओएलक्स पर बिकने आई कारों की जानकारी ली। उसके पास जिस मॉडल व रंग की कार है उसी मॉडल व रंग की कार ओएलएक्स पर बिकने आई। आरोपियों ने उस कार के नंबर को देखा और फर्जी नंबर प्लेट लगाकर अपनी गाड़ी में लगा ली ताकि कहीं चेकिंग हो तो कोई शक न कर सके।
लोगों से अपील
तोमर ने लोगों से अपील की है कि वे सोशल मीडिया पर गाड़ी बेचने के लिए विज्ञापन दें तो नंबर प्रदर्शित न करें, जब सौदा तय हो तो ही नंबर बताए ताकि कोई दुरुपयोग न कर सके।

प्रमोद मिश्रा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned