आपको भी मिलेगा, तीन लाख वीआईपी नंबर अब आम लोगों को होंगे अलॉट

amit mandloi

Publish: Oct, 13 2017 11:15:47 (IST)

Indore, Madhya Pradesh, India
आपको भी मिलेगा, तीन लाख वीआईपी नंबर अब आम लोगों को होंगे अलॉट

2 लाख 96 हजार से ज्यादा नंबर एेसे जो अब तक नहीं हो पाए नीलाम, २५ से एयरपोर्ट पर शुरू होगी स्मार्ट पार्र्किंग

इंदौर. परिवहन विभाग अब उन वीआईपी रजिस्ट्रेशन नंबरों को आम लोगों को अलॉट करने जा रहा है, जो तीन साल बाद भी ऑक्शन में नहीं आ सके हैं। इंदौर सहित प्रदेशभर में ऐसे वीआईपी नंबरों की संख्या 2 लाख 96 हजार 507 है। वहीं, इंदौर आरटीओ में इनकी संख्या १५ हजार से ज्यादा है। दीपावली के बाद ऐसे नंबरों को आम लोगों को देने के लिए परिवहन विभाग द्वारा राज्य सरकार को प्रस्ताव भेजा जा रहा है। वीआईपी नंबरों के अलॉटमेंट को लेकर आरटीओ के अधिकारियों पर पक्षपात के आरोप लगते थे। इन्हें खत्म करने के लिए तीन साल पहले विभाग ने इन नंबरों को ऑक्शन के जरिए अलॉट करने की प्रक्रिया शुरू की थी।

दो लाख रुपए में ०००१ नंबर
रजिस्ट्रेशन नंबर 0001, 0786 जैसे वीआईपी नंबरों को इंदौर सहित ग्वालियर, भोपाल जैसे शहरों में पिछले सालों में दो लाख रुपए तक में ऑक्शन के जरिए अलॉट किया जा चुका है। जबकि इनकी मूल कीमत चार पहिया वाहनों के लिए 15 हजार और दो पहिया वाहन के लिए 5 हजार रुपए हैं।

एक्जिट पाइंट पर होने वाले विवादों पर लग सकेगी लगाम
देवी अहिल्या विमानतल पर इसी माह से हाईटेक पार्किंग व्यवस्था शुरू होने जा रही है। इसके तहत यहां वाहन पार्किंग के लिए स्मार्ट कार्ड का इस्तेमाल किया जाना शुरू हो चुका है। फिलहाल इसका ट्रायल किया जा रहा है। आगामी २५ अक्टूबर से स्मार्ट कार्ड पाङ्क्षर्कग शुरू कर दी जाएगी। इसके लिए एंट्री पर बूम बैरियर लगा दिए गए हैं। साथ ही एंट्री व एक्जिट पॉइंट पर स्मार्ट कार्ड मशीनें लगाई गई है। इनसे निकलने वाली पर्ची के हिसाब से पार्किंग शुल्क देना होगा।

एयरपोर्ट पर पार्किंग शुल्क को लेकर वाहन चालकों और पार्किंग स्टाफ में विवाद लगातार बढ़ रहे हैं। वाहन चालकों द्वारा पार्र्किंग स्टॉफ पर अवैध वसूली के आरोप भी लगाए गए। कई शिकायतें एयरपोर्ट प्रबंधन, कलेक्टर व डीआईजी तक पहुंची।

एेसा रहेगा सिस्टम
स्मार्ट कार्ड सिस्टम के तहत एंट्री पॉइंट पर बूम बैरियर लगाया गया है। इसके ठीक पास में स्मार्ट कार्ड मशीन रखी गइ है। वाहन चालक को यहां पहुंचकर मशीन का बटन दबाना होगा। इस पर मशीन से स्मार्ट कार्ड निकलेगा, जिसे वाहन चालक को अपने पास रखना होगा। एयरपोर्ट से निकलते वक्त एग्जिट पॉइंट पर बूम बैरियर के पास ऐसी ही मशीन लगाई गई है। वाहन चालक को यहां स्मार्ट कार्ड मशीन में डालनने पर वाहन चालक को एंट्री से लेकर एग्जिट तक का समय एक पर्ची पर प्रिंट होकर मिल जाएगा। इस आधार पर पार्किंग स्टाफ 7 मिनट से ज्यादा होने पर उससे पार्किंग शुल्क वसूलेगा। 7 मिनट से कम समय पर उसे बिना शुल्क के जाने दिया जाएगा। इसका वाहन चालक के पास भी प्रमाण होगा।

 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned