चालानी कार्रवाई में लगी यातायात पुलिस को नहीं दिख रही अपनी खामी

चालानी कार्रवाई में लगी यातायात पुलिस को नहीं दिख रही अपनी खामी
चालानी कार्रवाई में लगी यातायात पुलिस को नहीं दिख रही अपनी खामी

Lakhan Sharma | Updated: 16 Sep 2019, 11:02:27 AM (IST) Indore, Indore, Madhya Pradesh, India

- जगह जगह सिग्नल फैल, ट्रेफिक हो रहा जाम

इंदौर। यातायात पुलिस शहर के बाशिंदो को कानून का पाठ पढ़ाने के लिए सड़कों पर उतरी है। यातायात सुधारने के बजाए चालानी कार्रवाई पर पुलिस का ज्यादा ध्यान नजर आ रहा है। लेकिन पुलिस को अपनी खामी नजर नहीं आ रही। इन दिनों शहर के अधिकांश चौराहों के सिग्नल फैल हैं। सिग्नल फैल होने की वजह से चौराहों पर जाम की स्थितियां बन रही है और दुर्घटनाएं भी हो रही है।
गौरतलब है की नगर निगम और यातायात पुलिस ने चौराहे चौराहे पर इन सिग्नलों को लगवाया था। सिग्नलों के खराब होने का प्रमुख कारण सौर ऊर्जा से इन सिग्नलों का संचालन होना बताया जा रहा है। दरअसल पिछले एक सप्ताह से अधिक समय से सिग्नलों पर लगे सिस्टम को सूरज की रोशनी नसीब नहीं हुई है। जिसके चलते अधिकांश चौराहे के सिग्नल फेल हो चुके हैं। इससे ट्रेफिक जाम की स्थिति बन रही है। हालत यह है की ईमली साहब गुरूद्वारे जवाहर मार्ग पर लगे सिग्नल में ग्रीन और रेड लाईट एक साथ जल रही है। रीगल तिराहा जहां पुलिस अफसरों का मुख्यालय है वहीं सिग्नल फेल पड़े हैं। एमजी रोड़ पर मृगनयनी चौराहा, जेल रोड़ सहित तमाम चौराहे के सिग्नल फेल है। जिम्मेदारों ने इन्हे लगाते वक्त इनमें लाईट का कनेक्शन ही नहीं दिया। यही कारण है की सौर ऊर्जा से चलने वोल इन सिग्नलों की बेटरी डिस्चार्ज होने के बाद ये पुरी तरह बंद हो गए हैं। कई बार सिग्नल अपने हिसाब से लाईट कभी भी कोई सी भी चालु कर देते हैं। एसे में दुर्घटनाएं भी हा ेरही है। भरपाई के लिए यातायात पुलिस के अफसरों ने जवानों को चौराहों पर मुस्तैद रहने के लिए कहा है, लेकिन वे यातायात सुगम बनाने के बजाए चालानी कार्रवाई में व्यस्त रहते हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned