scriptTwo students expelled from hostel in ragging case | रैगिंग की शिकायत के पीछे वर्चस्व की लड़ाई, दोनों गुटों के 6 छात्रों को होस्टल से निकाला | Patrika News

रैगिंग की शिकायत के पीछे वर्चस्व की लड़ाई, दोनों गुटों के 6 छात्रों को होस्टल से निकाला

जांच रिपोर्ट के आधार पर की कार्रवाई: सांस्कृतिक और स्पोर्ट्स एक्टिविटीज में भी नहीं ले सकेंगे हिस्सा।

इंदौर

Published: May 29, 2022 06:37:34 pm

इंदौर. रैगिंग की शिकायत के बाद देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी के आरएनटी होस्टल से आधा दर्जन छात्रों को निकाल दिया गया है। जांच में पाया गया कि छात्रों ने आपसी विवाद के कारण रैगिंग की शिकायत की थी। जांच के आधार पर स्कूल ऑफ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन के कल्पित मिश्रा, आइआइपीएस के नितिन द्विवेदी, तरुण चौधरी व मयंक जायसवाल, स्कूल ऑफ फार्मेसी के दिपांशु राय और स्कूल ऑफ कॉमर्स के हिमांशु सेंगर को होस्टल से निकाला गया है। ये छात्र अब शैक्षणिक के अलावा किसी भी गतिविधि में हिस्सा नहीं ले सकेंगे। रवींद्र नाथ टैगोर होस्टल में लंबे समय से दो गुटों के बीच विवाद चल रहा है। आए दिन बाहरी छात्र भी होस्टल में आकर रात रुकते हैं। बीते दिनों इसी बात पर कल्पित मिश्रा और हिमांशु सेंगर के बीच विवाद हुआ था। मामला बढ़ा और कल्पित ने धमकाने के लिए चाकू खोल लिया। यह विवाद थाने तक पहुंचा जहां दोनों गुटों में समझौता हो गया। लेकिन, इसके बाद भी अनबन जारी रही। बीते दिनों वार्डन को होस्टल में रैगिंग की शिकायत की गई। जब इसकी जांच शुरू हुई तो रैगिंग की जगह विवाद की जड़ दोनों गुटों की लड़ाई सामने आई। जूनियर व सीनियर छात्रों के बयान के आधार पर एंटी रैगिंग कमेटी ने जांच रिपोर्ट तैयार की।
रैगिंग की शिकायत के पीछे वर्चस्व की लड़ाई, दोनों गुटों के 6 छात्रों को होस्टल से निकाला
रैगिंग की शिकायत के पीछे वर्चस्व की लड़ाई, दोनों गुटों के 6 छात्रों को होस्टल से निकाला
पहले भी रेगिंग के मामले आ चुके सामने
इंदौर के कई कॉलेजों मे इसके पहले भी रेगिंग के मामले सामने आ चुके हैं। पीडि़तों ने यूजीसी से इस संबंध में शिकायत भी की। शिकायत के बाद कॉलेजों ने जांच कमेटी बनाकर जांच कराई। कई मामलों में कार्रवाई हाेती है तो कई मामलों में पीडि़त पक्ष अपनी शिकायत वापस ले लेता है, जिस कारण कार्रवाई नहीं होती।
अनुशासनहीनता बर्दाश्त

छात्रों के दो गुटों में विवाद के चलते रैगिंग की शिकायत हुई थी। 6 छात्रों की भूमिका सामने आने पर उन्हें तत्काल प्रभाव से होस्टल से निकाल दिया गया है। विभागाध्यक्षों को भी इसकी सूचना दी गई है। होस्टल में किसी भी तरह की अनुशासनहीनता बर्दाश्त नहीं की जाएगी।
- जीएल प्रजापति, चीफ वॉर्डन, डीएवीवी होस्टल

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बिहारः जदयू और भाजपा के बीच तकरार की वो पांच वजहें, जिससे टूटने के कगार पर पहुंची नीतीश कुमार सरकारहिंदुओं को अल्पसंख्यक घोषित करना अदालत का काम नहीं: सुप्रीम कोर्टFBI का छापा : अमरीका में भी भारत की तरह छापेमारी, Donald Trump के फ्लोरिडा वाले घर पर FBI की रेडCWG 2022: शूटिंग के बिना भारत ने जीते 61 मेडल, चौथे नंबर पर खत्म किया कॉमनवेल्थ का सफरMaharashtra Cabinet Expansion: सुबह 11 बजे से नए मंत्रियों का शपथ ग्रहण समारोह, उद्धव सरकार में मंत्री रहे इन चेहरों को भी मिल सकती है जगहबिहार में टूट के कगार पर भाजपा-जदयू गठबंधन! JDU की आज CM नीतीश के घर पर निर्णायक बैठकएक साल की उम्र में हुआ पोलियो, पैसे की कमी के चलते नहीं हुआ इलाज़, भावुक कर देगी गोल्ड मेडलिस्ट भाविना पटेल की कहानीHDFC ने दिया ग्राहकों को झटका, 10 दिन में दूसरी बार बढ़ाई होम लोन की ब्याज दरें
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.