VIDEO : आराम से आए बदमाश, कांपते हाथों से गार्ड पर तानी पिस्टल और बिल्डर घर में डाली डकैती

  • लसूडिय़ा थाना क्षेत्र की कंचन विहार कॉलोनी में वारदात
  • 5 हथियारबंद बदमाशों ने दिया वारदात को अंजाम
  • सीसीटीवी फुटेज में हुए कैद

By: Manish Yadav

Updated: 27 Nov 2019, 12:29 PM IST

इंदौर. लसूडिय़ा थाना क्षेत्र की स्कीम 78 स्थित कंचन विहार कॉलोनी में मंगलवार रात हथियार बंद बदमाशों ने बिल्डर के बंगले में डकैती की वारदात को अंजाम दिया है। बताया जाता है कि बदमाश आराम से चलते हुए आए और पिस्टल तानकर गार्ड को अपने कब्जे में लिया। उनकी मदद से अंदर घुसे और परिवार को अपने कब्जे में लेकर घर से नकदी और जेवर लूटकर ले गए। पुलिस को शंका है कि किसी परिचित व्यक्ति ने पूरी रैकी करके बदमाशों को सूचना दी है। बदमाश भी आसपास के ही इलाके के लग रहे है।

पुलिस के अनुसार कंचन विहार कॉलोनी में रहने वाले बिल्डर कैलाश चंद गोयल के घर पांच हथियार बंद बदमाशों ने डकैती डाली। बदमाशों ने सुरक्षा गार्ड और परिजनों को बंधक बनाकर लाखों रुपए के सामान और सोने-चांदी के आभूषणों पर हाथ साफ कर दिया। बदमाश किसी चार पहिया गाड़ी से आए थे, लेकिन भागते हुए एक दोपहिया गाड़ी को लूटा और फिर अलग-अलग होकर भागे। बदमाशों के एक सवारी गाड़ी में भागने की बात भी सामने आ रही है। वारदात के बाद पुलिस अफसर वहां पहुंचे। डॉग स्कवॉड भी पहुंचा। पुलिस को शंका है कि कोई ऐसा व्यक्ति बदमाशों से मिला हुआ है, जो कि घर की भौगोलिक स्थिति के बारे में जानता होगा। दो गार्ड वह भी बंदूकधारी के बावजूद इतनी बड़ी रिस्क लेकर वारदात को अंजाम देने से इस बात की आशंका है कि बदमाशों को पहले ही इस बारे में पता होगा। वहीं गार्ड को भी पुलिस ने क्लीन चिट नहीं दी। एसपी युसुफ कुरैशी ने बताया कि पुलिस हर संभावाना को देखते हुए जांच कर रही है। जल्द ही बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

हाथ कांप रहे थे बदमाशों के

परिजनों और गार्ड से हुई पूछताछ के साथ ही पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज भी देखे। बदमाशों ने जिस तरह से वारदात को अंजाम दिया। उससे लग रहा है कि वह आदतन नहीं हैं। उनमें से दो-तीन बदमाशों की उम्र 45 से ज्यादा लग रही है। परिजनों से हुई पूछताछ में पता चला कि आरोपित के हाथ में कट्टे थे, लेकिन नशे में लग रहे थे। जब वे धमका रहे थे तो उनके हाथ भी कांप रहे थे।

गाड़ी पहले निकल गई

सीसीटीवी फुटेज देखने से साफ है कि बदमाश मोड़़ से पहले ही गाड़ी से उतर गए थे। इसके बाद एक कार गार्ड की टोह लेते हुए निकल गई। इसके कुछ ही देर बाद मंकी कैप पहने बदमाश वहां पहुंचे। उनके आने के तरीका ही संदेहास्पद लग रहा है, लेकिन गार्ड को संदेह नहीं हुआ और बदमाश उसके पास तक पहुंच गए। एक बदमाश ने पिस्टल अड़ाई, इसी दौरान दूसरा बदमाश उसके पास पहुंच गया। पांच बदमाश सीसीटीवी फुटेज में गार्ड को कब्जे में लेते हुए दिख रहे हैं।

दिन में की रैकी

पुलिस जांच में एक तथ्य यह भी सामने आया है कि इनके किसी साथी ने दिन में रैकी की है। दिन में एक गाड़ी वहां से निकली थी। इसके ड्राइवर ने आसपास कुछ पूछताछ भी की थी। यह तथ्य सामने आने के बाद पुलिस ने गाड़ी को तलाशा और दो लोगों को हिरासत में लिया है। दोनों से पूछताछ की जा रही है। एक बात पुलिस को अजीब लग रही है कि बदमाशों ने काफी दूर से हथियार निकाल लिया था। उनके आने का तरीका भी ठीक नहीं लग रहा है, लेकिन इसके बाद भी गार्ड सर्तक क्यों नहीं हुआ और उन्हें अपने पास तक आने दिया। अगर वह सर्तक हो जाता तो बदमाश वारदात नहीं कर पाते। पुलिस उसे भी संदिग्ध मानकर पूछताछ कर रही है। वह पिछले पांच साल से वहां काम कर रहा है।

Manish Yadav Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned